चावल का पानी यानि माढ़ पीने के फायदे – Benefits जरूर पढ़े।

चावल का पानी यानि माढ़ पीने के फायदे। Chawal ka paani (Maand) peene ke fayde. Benefits of Rice Water in Hindi.

चावल को उबालने के बाद उसका पानी जो निकलता हैं, उसी चावल के पानी को माढ़ कहा जाता हैं। क्या आप चावल का पानी यानी की मांड (माढ़) पीने के फायदे के बारे में जानते हैं? क्या कहा नहीं तो चिंता की कोई बात नहीं हैं। आज के लेख में हम उबले चावल का पानी पीने के फायदे के बारे में आपको बताएँगे। Benefits of Rice Water in Hindi. Chawal ka paani kyon peena chahiye? Maand peene ke fayde.

चावल को पकाने के बाद अगर पानी बच जाता हैं तो कई लोग इस पानी को यूँही फेंक देते हैं। लेकिन यह मांड सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती हैं। भारत में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस चावल के माढ के गुणों के बारे में जानते हैं और इसे स्टार्च के रूप में उपयोग करते हैं। यह गाढ़ा सफ़ेद सा दिखने वाला तरल पदार्थ कई सारी बीमारियों को दूर करता हैं। यह उबले चावल का पानी प्रोटीन और मिनरल्स का खजाना माना गया हैं। माढ़ पेट के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता हैं।

इस तरल पदार्थ को छोटे बच्चों को पिलाने से उनमे कार्बोहाईड्रेट और एमिनो एसिड की कमी को पूरा किया जा सकता हैं। इसलिए छोटे बच्चों को राइस वाटर जरूर पिलाना चाहिए। इस चावल के मांढ़ को पीने से शरीर में ताकत आती हैं। आइये जानते हैं इससे शरीर को क्या-क्या लाभ होते हैं।

चावल का पानी (माढ़) पीने के फायदे :-

दस्त के उपचार में फायदेमंद

चावल के माढ़ में उपलब्ध न्यूट्रीएंट्स बच्चों से लेकर बड़ो तक के उपचार में फायदेमंद होता हैं। छोटे बच्चों को अकसर दस्त होने की समस्या ज्यादा होती हैं, इसे रोकने के लिए उन्हें तरल पदार्थ आहार के रूप में चावल का मांड पिलाने से यह दस्त को रोकने में बहुत जल्दी असर करता हैं। बच्चे हो या बड़े दोनों को डायरिया होने पर चावल का पानी जरूर पीना चाहिए। डायरिया के शुरुवाती दौर में ही चावल का माढ पीने से आप इसके गंभीर परिणामो से बच सकते हैं।

कैंसर होने से बचाए

चावल के माढ में विटामिन ए और एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से आपको बचाते हैं। राइस वाटर को पीने से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने में मदद मिलती हैं। वैज्ञानिकों का यह मानना हैं की चावल में ट्यूमर को दबाने वाले तत्व पाए जाते हैं और यही कैंसर विरोधी तत्व आपको आंतो के कैंसर होने से बचाते हैं।

यह भी पढ़े :- कैंसर को रोकने में मदद करते हैं यह फूड और आहार। 

दिमाग के लिए लाभकारी

चावल का माढ़ पीने से शरीर शक्तिशाली बनता हैं और दिमागी विकास के लिए यह काफी फायदेमंद माना जाता हैं। अल्जाइमर यानि की बुढापे में भूलने की बीमारी को दूर करने के लिए माढ़ नियमित रूप से पीने से लाभ होता हैं। अगर आप अपने दिमाग को तेज़ करना चाहते हैं तो पके चावल के पानी को यूँही न फेंकिये, बल्कि इसे नियमित रूप से पीना शुरू कर दीजिये।

पेट के लिए फायदेमंद

जिन लोगो को हमेशा पेट की समस्याएं परेशान करती रहती हैं, ऐसे कमजोर पेट वाले लोगो के लिए चावल का माढ पीना फायदेमंद होता हैं। चावल का मांड पीने से खाने को हजम करने में आसानी होती हैं। चावल में दूध मिला कर 20 मिनट तक ढक कर रखिये, फिर उसे खाईये, इससे पेट को ज्यादा फायदा होगा। इसके अलावा उबले चावल का पानी पीने से डायरिया और कब्ज़ से तुरंत राहत मिलता हैं।

कब्ज़ से छुटकारा दिलाये

अगर आपको कब्ज़ की शिकायत रहती हैं तो आपको चावल का माढ़ जरूर पीना चाहिए। चावल में माढ में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं और डाइजेशन को सुधारता हैं। चावल का मांड पीने से मेटाबोलिज्म भी बढ़ता हैं। अगर आपको कब्ज़ की शिकायत हैं तो चावल का माढ़ 1 से 2 बार पीने से आपको कब्ज़ से राहत मिल जाएगी। इसे पीने से शरीर में अच्छे बैक्टीरिया एक्टिव हो जाते हैं और पेट को हेल्दी रखने में मदद करते हैं।

यह भी पढ़े :- कब्ज़ को दूर करने वाले आसान घरेलु नुस्खे और उपाय। 

बालों के लिए फायदेमंद

बालों के लिए चावल का पानी बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं। अगर आप पतले और बेजान बालों से परेशान हैं तो चावल के पानी से बालो को धोये। चवाल के पानी में बालों को धोने से बाल घने बनते हैं और इनमे चमक भी आती हैं। चावल के पानी को 20 मिनट तक अपने बालों में लगा कर छोड़ दे, फिर शैम्पू और कंडीशनर से अपने बालो को धो ले। आप बिना किसी महंगे ट्रीटमेंट से पा सकते हैं सुंदर और चमकदार घने बाल।

डिहाइड्रेशन से बचाए

गर्मियों के दिनों में ज्यादा पसीना निकलने की वजह से शरीर में न्यूट्रीएंट्स और पानी की कमी हो जाती हैं। चावल का माढ पीकर भी पानी की कमी को पूरा किया जा सकता हैं। डिहाइड्रेशन को रोकने के लिए चावल का मांढ़ पीना नेचुरल उपचार माना जाता हैं। गर्मियों के दिनों में सिर्फ 1 गिलास माढ़ पीने से डिहाइड्रेशन से बचाव होता हैं।

हाई ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करे

चावल के माढ को पीने से हाई ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती हैं। चावल में सोडियम कम पाया जाता हैं जिस वजह से यह हाई ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए अच्छा आहार माना गया हैं। इसलिए उच्च रक्तचाप के रोगियों को चावल का माढ जरूर पीना चाहिए।

त्वचा को चमकदार बनाने के लिए

त्वचा की चमक बढ़ाने के लिए आप महंगे और केमिकल्स वाले कॉस्मेटिक का इस्तेमाल करती हैं। जिससे कई बार आपकी स्किन को नुकसान का सामना भी करना पड़ता हैं। ऐसे में चावल के पानी के उपयोग से आप उजली और चमकदार स्किन पा सकती हैं। इसलिए लिए आप कॉटन को चावल के पानी में डुबो कर इसे चेहरे पर लगाये, इससे आपकी स्किन चमकीली और हेल्दी बनेगी।

सूरज की हानिकारक किरणों से बचाए

गर्मियों के दिनों में एक गिलास राइस वाटर को पी कर घर से निकलने पर सूरज के ताप का प्रभाव शरीर पर कम पड़ता हैं और यह आपको सूरज की खतरनाक अल्ट्रा वायलेट किरणों से भी बचाता हैं।

वायरल बुखार और इन्फेक्शन में फायदेमंद

मौसम के बदलने की वजह से वायरल बुखार या इन्फेक्शन होना आम बात हैं। इस वायरल बुखार में दस्त होने के साथ शरीर में पानी की कमी भी हो जाती हैं। इससे आराम पाने के लिए डॉक्टर जूस पीने की सलाह देते हैं। वायरल बुखार या इन्फेक्शन होने पर चावल का माढ पीना बहुत ही ज्यादा फायदेमंद रहेगा। इससे शरीर में पानी की कमी दूर होगी और शरीर को जरूर पोषक तत्व भी प्राप्त होंगे। इससे व्यक्ति को जल्दी ठीक होने में मदद मिलती हैं, क्योंकि इसमें मौजूद न्यूट्रीएंट्स मौसमी बुखार और बिमारियों को जल्द से जल्द ठीक करने में मदद करते हैं।

यह भी पढ़े :- बुखार को कम करने के लिए आसान घरेलु नुस्खे और उपाय।

एनर्जी से भरपूर

चावल के माढ़ में कार्बोहाईड्रेट ज्यादा पाया जाता हैं जो इसे एनर्जी से भरपूर बनाता हैं। खाली पेट सुबह सिर्फ 1 गिलास चावल का माढ पी लेने से दिन भर के लिए एनर्जी बनी रहती हैं और आपको थकान महसूस नहीं होती हैं। चावल के पानी में घी और नमक मिला कर पीने से यह एनर्जी बूस्टर का काम करता हैं। इससे व्यक्ति का शरीर चुस्त बन जाता हैं। अगर आप थकान महसूस कर रहे हैं और तुरंत एनर्जी प्राप्त करना चाहते हैं तो चावल का माढ जरूर पीजिये।

चावल का माढ़ बनाने की विधि (रेसिपी) :-

चावल का माढ़ बनाने के लिए चावल बनाते समय ही थोड़ी ज्यादा मात्रा में पानी डाल दे। चावल के पकने के बाद बचे हुए पानी को किसी साफ़ बर्तन में निकाल ले। इस पानी में हल्का सा नमक और निम्बू का रस मिला कर पीजिये। अगर आप इसे और थोड़ा टेस्टी बनाना चाहते हैं तो चावल के उबलने के बाद पानी को निकाले और इसमें जीरा और हिंग का छौंक लगा दे, इससे यह ज्यादा स्वादिष्ट लगेगा। वैसे तो चावल का माढ में थोड़ा सा नमक मिला कर पीना शरीर के लिए ज्यादा फायदेमंद रहेगा।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...