छींक से जुड़े हुए शकुन-अपशकुन के बारे में जानिए।

छींक के शगुन-अपशगुन, शुभ-अशुभ प्रभाव.

साइंस के अनुसार छींक आना एक बॉडी प्रोसेस हैं। लेकिन ज्योतिष शास्त्र में छींक को लेकर कई सारी मान्यताएं जुड़ी हुई हैं। छींक आने को लेकर कई सारे शुभ-अशुभ, शगुन-अपसगुन आदि देखने को मिलते है। जी, हाँ छींक आना एक स्वाभाविक क्रिया होते हुए भी यह शकुन-अपशकुन को दर्शाती हैं। वैसे तो किसी काम को शुरू करने से अगर किसी को छींक आ जाये तो ऐसा माना जाता हैं की यह अपशगुन हो गया। लेकिन छींक आना हर बार अशुभ नहीं होता हैं।

ज्योतिष के अनुसार छींक को लेकर कई सारी विश्वास जुड़े हुए हैं। लेकिन अगर किसी इंसान की तबियत ख़राब हैं और वह बार-बार छींक रहा हैं तो इससे कोई भी शुभ-अशुभ का प्रभाव ही नहीं माना जा सकता हैं। आइये छींक से सम्बंधित शुभ-अशुभ, सगुन-अपसगुन आदि के बारे में जानते हैं।

जानिये ज्योतिष के अनुसार छींक आने के फायदे और नुकसान :-

1. अगर कोई मनुष्य नया काम शुरू करने जा रहा हो और उसे छींक आ जाये तो इसका मतलब यह होता हैं की उसके काम में कुछ बाधाएं जरूर आएँगी। लेकिन अगर उसे दूसरी छींक उसी समय आ जाये तो यह मान लेना चाहिए की उसका काम हर हाल में पूरा होकर ही रहेगा।

2. अगर आप किसी काम के लिए घर से बाहर जा रहे हैं और आपके पीछे से कोई छींक दे। तो यह समझिये की आप अपने काम में जरूर सफल होंगे।

3. खाना खाने जा रहे हैं या भोजन कर चुके हैं और आपको छींक आ जाये। तो यह काफी ज्यादा शुभ होता हैं, इसका मतलब यह होता हैं की आपको अति स्वादिष्ट भोजन प्राप्त होने वाला हैं। अगर भोजन कर चुके हैं तो इसका मतलब यह होगा की आपको अगली बार अति-स्वादिष्ट भोजन करने का सौभाग्य मिलेगा।

4. अगर घर में कोई मेहमान आये हो। और मेहमान जब घर से वापिस जाने लगे उस दौरान कोई छींक दे तो इसे अशुभ माना जाता हैं।

5. अगर आप कंही जा रहे हैं और रास्ते में कोई अशुभ दुर्घटनावश प्रकृति का संकेत दिखाई दे रहा हो और उसी वक़्त आपको छींक आ जाये। तो यह समझना चाहिए की आपके उपर से अशुभ प्रभाव दूर हो गया हैं।

6. अगर आप नए कपड़े पहनने जा रहे हो और कोई छींक मार दे या फिर आपको छींक आ जाये तो यह मत सोचिये की यह अशुभ संकेत हैं। बल्कि इसका मतलब यह होता हैं की जल्द ही आपको दुसरे नए कपड़े मिलने वाले हैं।

जरूर पढ़े :- जानिए छींक के बारे में रोचक तथ्य।

7. अगर किसी रोगी को लेकर आप हॉस्पिटल जा रहे हो और हॉस्पिटल में दाखिल होते ही आपको छींक आ जाये तो यह काफी ज्यादा शुभ होती हैं। लेकिन कई जगह इसे गलत माना जाता है।

8. अगर आप सोचते है की कोई छींक आपके लिए अपशगुन साबित होगी। तो छींक के अपशगुन को दूर करने के लिए आप उसी समय “ऊं राम रामेति शांति शांति” का जाप करे। फिर काम होने के बाद घर को वापिस आते समय किसी मंदिर में प्रसाद चढ़ा दे।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...