ज्यादा देर तक सोने से सेहत को होते हैं यह नुकसान।

बहुत ज्यादा सोने के नुकसान

अच्छी नींद लेने से शरीर एकदम फ्रेश हो जाता हैं। अगर स्वस्थ्य रहना चाहते हैं तो नींद पूरी लेनी जरूरी हैं। लेकिन कई लोग ऐसे भी जो जरूरत से ज्यादा सोते रहते हैं। कहने का मतलब हैं की वह बहुत ज्यादा सोते हैं, अर्थात बहुत देर तक सोते ही रहते हैं। ज्यादा देर तक सोने से सेहत पर बुरा असर पड़ता हैं। क्योंकि अगर आप रात को सोने के बाद सुबह बहुत ज्यादा लेट तक उठते हैं तो इससे शरीर पर नेगेटिव असर पड़ने लगता हैं। इसका डायरेक्ट असर आपके दिमाग और हॉर्मोन्स पर पड़ने लगता हैं। इसलिए सोना जरूरी हैं, लेकिन उतना ही सोये जितना आपके शरीर के लिए जरूरी हो।

एक स्वस्थ्य जीवन जीने के लिए रात को जल्दी सो जाना चाहिए और सुबह जल्दी उठने की कोशिश करनी चाहिए। सुबह उठकर आपको कसरत या सैर आदि करनी चाहिए। सुबह जल्दी उठने का फायदा यह भी हैं की सुबह के समय वातावरण प्रदूषण रहित और एकदम शांत होता हैं। सुबह जल्दी उठकर सैर आदि करने से फेफड़ों को ऑक्सीजन ज्यादा मात्रा में प्राप्त होती हैं, जिससे आप सारा दिन एनर्जेटिक बने रहते हैं।

आज का विषय यह हैं की आखिर ज्यादा देर तक सोने के नुकसान क्या हैं? जैसा की आप लोग जानते हैं की प्रत्येक व्यक्ति को सिर्फ 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। आइये जानते हैं देर तक सोने से क्यों बचना चाहिए?

बहुत देर तक सोने से स्वास्थ्य को होने वाले नुकसान :-

■ कब्ज़ होने का ख़तरा

अगर आप ज्यादा देर तक सोते हैं तो आपके पेट में कब्ज़ की समस्या हो सकती हैं। पेट को सही रखने के लिए शारीरिक क्रिया करते रहना जरूरी हैं। लेकिन जब आप ज्यादा देर तक सोते रहते हैं तो आप कोई भी शारीरिक क्रिया नहीं कर पाते हैं, ऐसे में आपके पेट में कब्ज़ की समस्या हो सकती हैं।

■ दिमाग कमजोर करे

जरूरत से ज्यादा सोने पर दिमाग कमजोर बनने लगता हैं। इससे आपका दिमाग बहुत ही तेज़ी के साथ बूढ़ा होने लगता हैं और जिससे आपकी ब्रेन मेमोरी पर काफी नकारात्मक असर पड़ता हैं। इससे आपकी याददाश्त भी कमजोर होने लगती हैं और आपको भूलने की बीमारी हो सकती हैं।

जरूर पढ़े :- सावधान! यह आदतें आपके दिमाग को बना रही हैं कमजोर।

■ मोटापे की समस्या होना

देर तक सोने से मोटापा होने का खतरा भी बढ़ जाता हैं। क्योंकि जब आप देर तक सोते ही रहते हैं तो आपकी बॉडी रेस्ट मोड में चली जाती हैं। कम फिजिकल एक्टिविटी होने के कारण आपकी बॉडी कम कैलोरी को बर्न करती हैं, परिणामस्वरूप आपका वजन बढ़ने लगता हैं। एक रिसर्च में यह पाया गया की ज्यादा देर तक सोने वाला व्यक्ति मानसिक बिमारियों और हाई बॉडी मॉस इंडेक्स से पीड़ित हो जाता हैं।

■ डायबिटीज का ख़तरा

ज्यादा समय तक सोने से बॉडी में शुगर को अवशोषित करने की क्षमता पर ख़राब असर पड़ता हैं। जिससे टाइप-2 डायबिटीज होने की सम्भावना काफी ज्यादा बढ़ जाती हैं।

■ मृत्यु जल्दी आना

अधिक देर तक सोने वाले लोगो की मृत्यु जल्दी आ सकती हैं। इस बात की पुष्टि एक रिसर्च द्वारा की गयी हैं। इस रिसर्च के अनुसार जो लोग बहुत ज्यादा नींद लेते हैं या फिर वे लोग जो बहुत कम नींद लेते है। दोनों ही तरह के लोगो की मौत समय से पहले हो जाती हैं। यानि इससे जल्दी मौत आने की सम्भावना काफी ज्यादा बढ़ जाती हैं। इसलिए लम्बी उम्र तक जीना चाहते हैं तो 8 घंटे की नींद लेना ही उचित हैं।

■ डिप्रेशन की समस्या होना

बहुत देर तक सोने से ब्रेन में सेरोटोनिन और डोपामाइन का लेवल कम होने लगता हैं। जिससे आपका मूड स्विंग करने लगता हैं और आप चिडचिडेपन के शिकार हो जाते हैं। इससे आप डिप्रेशन में भी जा सकते हैं।

जरूर पढ़े :- इन आदतों के कारण आप डिप्रेशन के शिकार हो सकते हैं।

■ सिरदर्द की समस्या होना

ज्यादा अधिक मात्रा में सोने पर सिरदर्द की समस्या भी हो सकती हैं। इससे ब्रेन में न्यूरोट्रांसमीटर में उतार-चढ़ाव आने लगता हैं, जिससे नींद के दौरान सेरोटोनिन बढ़ जाता हैं। जिससे आपको सिरदर्द की शिकयत हो सकती हैं।

■ पीठ दर्द की समस्या

आपने भी गौर किया होगा की ज्यादा देर तक सोने से पीठ में दर्द होने लगता हैं। क्योंकि ज्यादा समय तक सोते रहने से पीठ अकड़ जाती हैं। नतीज़न आपको पीठ दर्द की समस्या हो जाती हैं। ऐसा इसलिए होता हैं क्योंकि बॉडी में ब्लड फ्लो सही तरह से नहीं हो पाता हैं। इसलिए आपको ज्यादा देर तक सोने से बचना चाहिए।

■ दिल के लिए नुकसानदायक

अगर आप बहुत देर तक सोते रहते हैं तो इसका बुरा असर आपके हार्ट पर भी पड़ता हैं। इससे आपको दिल की बीमारियाँ होने की आशंका कई गुना ज्यादा बढ़ जाती हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...