टेंशन लेने से शरीर को होते हैं यह नुकसान।

ज्यादा टेंशन लेने के नुकसान

आज हाई कम्पटीशन का युग हैं, जिसके चलते लोगो का जीवन इतना ज्यादा मुश्किल हो गया हैं। की ज्यादातर लोग काम के बोझ चलते या पारिवारिक समस्याओं के चलते टेंशन में जी रहे हैं। आज के युग में मनुष्य के जीवन में तनाव आना आम बात हैं। वैसे तो टेंशन यानी स्ट्रेस होने पर व्यक्ति के अंदर कोई खास लक्षण नहीं दिखाई देते हैं। लेकिन फिर भी स्ट्रेस एक ऐसी गंभीर समस्या हैं, जिसके कारण व्यक्ति के शरीर पर बहुत ही ज्यादा हानिकारक प्रभाव पड़ता हैं।

टेंशन अपने आप में कोई खास बीमारी नहीं हैं, लेकिन इससे शरीर में दूसरी बीमारियाँ होने लगती हैं। टेंशन ज्यादा लेने से सबसे पहले आपके दिमाग पर काफी ज्यादा प्रेशर पड़ता हैं। जिसके कारण आपकी हार्ट बीट रेट तेज़ हो जाती हैं। जिससे बाद में आपको हाई ब्लड प्रेशर और दिल से जुड़ी बीमारियाँ होने का ख़तरा बढ़ जाता हैं। तनाव ज्यादा लेने से आप कोई भी काम सही ढंग से नहीं कर पाते है और आप काफी सुस्त भी दिखाई देते हैं। यहाँ तक की आप कभी-कभी क्रोधित भी हो जाते हैं। आइये जानते हैं स्ट्रेस होने के लक्षण क्या हैं?

स्ट्रेस लेने के लक्षण और नुकसान :-

■ जोड़ों में दर्द की समस्या

मसल्स में दर्द होना टेंशन होने के संकेत हो सकते हैं। ज्यादातर यह देखा गया हैं की जिन लोगो के जोड़ो या मांसपेशियों में दर्द की समस्या रहती हैं, वे लोग जब टेंशन लेते हैं, तो उनके जोड़ो में होने वाला दर्द और भी ज्यादा तेज़ हो जाता हैं। ऐसे में गठिया के रोगियों को तनाव लेने से बचना चाहिए, वर्ना टेंशन में आने पर उन्हें बहुत ज्यादा दर्द महसूस होगा।

■ दिल की धड़कन तेज़ होना

अगर आप ज्यादा टेंशन के दौर से गुजर रहे हैं तो आपका दिल तेज़ी के साथ धड़कने लगता हैं। यह स्तिथि आपके लिए गंभीर साबित हो सकती हैं, इससे आपके सीने में दर्द या कार्डियक अरेस्ट आने का ख़तरा बढ़ जाता हैं। कार्डियक अरेस्ट वह बीमारी हैं जिसमे दिल अपना काम कम करना बंद कर देता हैं। अभी पिछले दिनों बॉलीवुड एक्ट्रेस श्री देवी की मौत भी कार्डियक अरेस्ट की वजह से हुई थी।

■ हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होना

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी स्ट्रेस होने के लक्षण होते हैं। क्योंकि टेंशन होने पर आपका ब्रेन स्ट्रेस हॉर्मोन छोड़ने लगता हैं। जिसके कारण शरीर में ब्लड फ्लो बहुत तेज़ी के साथ होने लगता हैं, जिससे व्यक्ति का ब्लड प्रेशर हाई हो जाता हैं।

जरूर पढ़े :- हाई ब्लड प्रेशर होने की वजह क्या हैं? 

■ पिंपल्स की समस्या होना

अगर चेहरे पर ज्यादा मुहांसे, दाग-धब्बे हो रहे हैं तो यह भी स्ट्रेस होने के लक्षण होते हैं। क्योंकि जो सेल्स डेड स्किन बैक्टीरिया को उत्पन्न करती हैं, वे ब्रेन से रिलीज होने वाले स्ट्रेस हॉर्मोन से मिल कर चेहरे पर कील-मुहांसों की समस्या पैदा कर देती हैं।

■ पेट दर्द की शिकायत होना

टेंशन की वजह से पेट से जुड़ी समस्याएं ज्यादा होने लगती हैं। क्योंकि बॉडी का पूरा प्रोसेस ब्रेन से जुड़ा होता हैं। ऐसे में टेंशन ज्यादा होने पर ब्रेन स्ट्रेस हॉर्मोन रिलीज करने लगता हैं। जिससे पेट के मसल्स में खिचाव, अपच और डायरिया की प्रॉब्लम होने लगती हैं। कई लोगो को मिचली भी आ सकती हैं।

■ मोटापे की समस्या होना

अगर आपका वजन तेज़ी के साथ बढ़ रहा हैं तो यह टेंशन ज्यादा लेने के लक्षण हो सकते हैं। ज्यादा टेंशन में होने पर कई लोग गलत चीज़े खाने लगते हैं या फिर गलत जीवनशैली जीने लगते हैं। परिणामस्वरूप उनका वजन बढ़ने लगता हैं। कई बार यह भी देखा गया हैं की टेंशन से भरी जिंदगी जीने पर व्यक्ति का वजन तेज़ी के साथ कम भी होने लगता हैं।

■ सिरदर्द होना

अगर सिर में ज्यादा दर्द होता हैं या माइग्रेन की समस्या रहती हैं तो यह भी टेंशन होने के संकेत हो सकते हैं। जब आपका ब्रेन पर्सनल और प्रोफेशनल प्रॉब्लम्स के बीच फंस जाता हैं तो ब्रेन से स्ट्रेस हॉर्मोन पैदा होने लगते हैं। जिससे गले में दर्द, कंधे में दर्द और सिरदर्द जैसी प्रॉब्लम्स होने लगती हैं। इसलिए इन सभी तरह के दर्द से बचना चाहते तो कृपया तनाव लेने से बचे।

■ थकान होना

जो व्यक्ति सारा दिन थकान महसूस करता हैं। वह निश्चित ही तनाव में जी रहा हैं। ज्यादा थकान होने की वजह 2 ही होती है, एक तो वह दिन भर ऑफिस के काम के बोझ तले दबा हुआ हैं और रात को उसकी नींद भी पूरी नहीं हो पा रही हैं। अगर आप रात को सही तरह से सो नहीं पा रहे हैं और काम के बोझ के चलते या परिवारिरिक कारणों से परेशान होकर टेंशन में जी रहे हैं तो टेंशन को दूर करने के लिए कुछ प्रयास जरूर करे। वरना आप सारा दिन थकान से घिरे रहेंगे।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...