डायरिया (लूज मोशन) दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

डायरिया होने पर क्या करे?

डायरिया यानि दस्त लगने की समस्या एक आम बीमारी हैं। खानपान में हुई लापरवाही के चलते दस्त लग जाते हैं। डायरिया होने पर बड़ी ही तेज़ी के साथ शरीर के मिनरल्स और पानी बाहर निकलने लगते हैं। जिसके कारण रोगी को काफी ज्यादा कमजोरी महसूस होती हैं। आज के लेख में हम डायरिया दूर करने के असरदार घरेलु नुस्खे और उपाय लेकर आये हैं। जिन्हें अजमाने से दस्त की समस्या का उपचार आसानी के साथ किया किया जा सकता हैं।

अगर किसी व्यक्ति को दस्त लग जाते हैं तो यह समस्या उसे साल भर में 2 से 3 बार भी हो सकती हैं। लूज मोशन की प्रॉब्लम आपको बार-बार न हो, इसके लिए जरूरी हैं की आप एलोपैथी दवाइयों की जगह पर घरेलु नुस्खे और इलाज को अपनाए। डायरिया से छुटकारा पाने में काफी मददगार हैं निचे बताये गये नुस्खे, उपाय और टिप्स।

डायरिया से छुटकारा पाने के घरेलु नुस्खे, उपाय और तरीके :-

■ कच्चा पपीता दस्त को रोकता हैं

कच्चा पपीता डायरिया को रोकने के लिए एक बेहतरीन औषधि हैं। कच्चे पपीते को छिल कर छोटे-छोटे टुकड़े काट कर उबाल ले। फिर इस पपीते वाले उबले पानी को छान कर हल्का गर्म होने पर पिए। इससे दस्त आने रूक जाते हैं। इस कच्चे पपीते वाले पानी को दिन भर में 3 बार पीने से डायरिया की बीमारी में फायदा होता हैं।

■ लौकी से पाए डायरिया में राहत

लौकी डाइजेशन सिस्टम के लिए काफी अच्छी दवाई हैं। एक लौकी ले और उसे छिलकर बारीक काट ले। मिक्सर में लौकी का रस निकाल ले। इस लौकी के जूस को छान कर दिन भर में 2 से 3 बार सेवन करे। इससे दस्त लगने की समस्या से छुटकारा मिलता हैं।

जरूर पढ़े :- लौकी का जूस पीने के फायदे।

■ नींबू से करे डायरिया का उपचार

निम्बू के जूस में एंटी-इन्फ्लेमेंट्री गुण पाए जाते हैं। यह पेट को पूरी तरह से साफ कर देता हैं। दस्त से आराम पाने के लिए यह प्रचीन रामबन इलाज हैं। एक नींबू के रस में एक चम्मच नमक और थोड़ी सी चीनी मिला कर पिए। इस घोल को प्रत्येक एक घंटे के अंतराल पर पीते रहने से डायरिया की बीमारी ख़त्म होने लगती हैं। इस नुस्खे को अजमाने के साथ ही हल्का भोजन भी करते रहे। इससे डायरिया की प्रॉब्लम से जल्दी निजात पाने में मदद मिलती हैं।

■ शहद डायरिया में दिलाता है राहत

शहद लूज मोशन को रोकने के लिए किसी दवाई से कम नहीं हैं। जब भी दस्त लग जाये तो दिन भर में कम से कम 2 से 3 चम्मच शुद्ध शहद का सेवन करना चाहिए। एक चम्मच शहद में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिक्स करके लेने से भी डायरिया की बीमारी में आराम मिलता हैं।

■ अदरक

यह एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों से भरा हुआ हैं। आधे चम्मच अदरक पाउडर को छाछ के साथ मिला कर दिन भर में 2 से 3 बार लेने से दस्त की समस्या जल्दी ठीक हो जाती हैं।

जरूर पढ़े :अदरक के घरेलु नुस्खे और फायदे।

■ सरसों के बीज

यह एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरे हुए हैं। दस्त लगने पर इनका इस्तेमाल जरूर करे। ¼ चम्मच सरसों के बीजों को एक कप पानी में एक घंटे तक भिगो कर रखे। फिर इस पानी को छान कर पी जाये। इस रामबाण नुस्खे को दिन भर में 2 से 3 बार आजमाए। इससे डायरिया की प्रॉब्लम से छुटकारा मिलता हैं।

■ दही चावल खाए

उबले हुए चावल यानि कुकर में पकाए गये ताज़े चावलों को दही के साथ मिला कर खाना चाहिए। डायरिया होने पर दही-चावल दिन भर में दो से तीन बार खाए। इससे दस्त की समस्या दूर हो जाती हैं।

■ मेथीदाना

यह एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज से भरा हुआ हैं। ¼ चम्मच मेथिदाने के पाउडर को ठंडे पानी के साथ मिला कर सेवन करे। इससे पेट की गर्मी दूर हो जाती हैं और लूज मोशन से आराम मिलता हैं। यह पाउडर खाली पेट २ से ३ दिनों तक लेना चाहिए। इससे दस्त आना बंद हो जाते हैं।

■ अनार

अनार दस्त को रोकने के लिए रामबाण उपचार हैं। अनार के बीजों को चबाने से दस्त की समस्या से राहत मिलती हैं। डायरिया होने पर अनार का जूस पीने की सलाह एक्सपर्ट देते हैं। अनार की पत्तियों को पानी में उबाल कर इस पानी को छान कर पीना चाहिए, इससे भी लूज मोशन को खत्म करने में आसानी होती हैं।

नोट :- आपने ऊपर जाना की डायरिया यानि दस्त होने पर क्या करना चाहिए। अगर ऊपर बताये गये उपाय और टिप्स काम नहीं कर रहे हैं तो डॉक्टर से तुरंत सम्पर्क करे।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *