तिल के फायदे जरूर जानिए.

Til ke fayde. Benefits of Sesame Seed in Hindi.

तिल का इस्तेमाल कई सारे पकवानों में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता हैं। तिल मीठे और नमकीन दोनों ही व्यंजनों में डाला जाता हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं की तिल खाने में न सिर्फ स्वादिष्ट होता हैं, बल्कि सेहत को इससे काफी ज्यादा लाभ मिलता हैं। आइये तिल और तिल के तेल के फायदे के बारे में जानते हैं।

तिल खाने के फायदे :-

1. प्रेगनेंसी में होता हैं फायदेमंद

तिल में फोलिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं। जो गर्भवती स्त्रियों के लिए फायदेमंद हैं। जिससे भ्रूण के विकास में मदद मिलती हैं। सिर्फ तिल के बीज ही नहीं बल्कि तिल के तेल से बनाई गयी चीज़े भी प्रेग्नेंट महिलाओं को फायदा पहुचाती हैं।

2. नवजात के लिए भी हैं बढ़िया

छोटे बच्चों की मालिश करने के लिए कई तरह के तेल का प्रयोग किया जाता हैं। बच्चों की मालिश करने वाले तेलों में तिल का तेल भी विशेष महत्व रखता हैं। इससे बच्चों की हड्डियाँ मजबूत बनती हैं। आयुर्वेद के अनुसार तिल का तेल ठंडा होता हैं, इससे बच्चों की ग्रोथ बढ़ाने में मदद मिलती हैं।

3. ख़राब कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करे

तिल में फोलिक एसिड अच्छी मात्रा में होता हैं। साथ ही इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड भी पाया जाता हैं जो LDL यानि ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करता हैं। साथ ही इससे शरीर में Good कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने लगती हैं। इससे बॉडी में healthy Lipid (फैट) बना रहता हैं। जिस वजह से यह दिल को बिमारियों से बचाए रखता हैं।

4. स्ट्रोक आने के बाद मदद करे

रिसर्च बताते हैं की स्ट्रोक आने के बाद ब्रेन में ब्लड सर्कुलेशन का फ्लो कम हो जाता हैं। ऐसी हालत में तिल बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता हैं। यह रक्त प्रवाह को ठीक करता हैं। साथ ही इसमें मैग्नीशियम होता हैं, जो न सिर्फ ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता हैं, बल्कि Neuron Impulse को भी मजबूत बनाता हैं।

5. कैंसर से बचाए

रिसर्च के अनुसार तिल में एंटी-कैंसर प्रॉपर्टी पाई जाती हैं। जिस कारण यह फेफड़ों के कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, ल्यूकेमिया (ब्लड कैंसर), ब्रेस्ट कैंसर और pancreatic कैंसर से सुरक्षा प्रदान करता हैं। साथ ही इन सभी प्रकार के कैंसर के होने के खतरे को कम करता हैं। इसमें पाए जाने एंटीऑक्सीडेंट बॉडी में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते हैं, साथ ही कैंसर को पैदा करने वाले केमिकल्स से भी बचाने का का काम करते हैं।

6. बच्चों की हड्डियाँ मजबूत बनाये

तिल में डाईटरी प्रोटीन और एमिनो एसिड अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं। यह एसिड और प्रोटीन बच्चों की हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। लगभग 100 ग्राम तिल के बीज खाने से 18 ग्राम प्रोटीन प्राप्त किया जा सकता हैं। इससे न सिर्फ बच्चों की हड्डियाँ मजबूत बनती हैं, बल्कि उनके शारीरिक विकास में भी मदद मिलती हैं।

7. एंग्जायटी को कम करे

तिल में नियासिन नामक विटामिन (नर्वस सिस्टम को सही रखने वाला विटामिन) भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। 100 ग्राम तिल में तकरीबन 28% मौजूद होता हैं। इसके अलावा इसमें GABA (Gamma Amino Butyric Acid – यह दिमाग के अंदर होने वाली एक एक्टिविटी) को भी इम्प्रूव करता हैं। यही एक्टिविटी एंग्जायटी और नूरोसिस की वजह बनती हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...