तेज पत्ते के घरेलु नुस्खे और फायदे के बारे में जानिए.

Tej patte ke gharelu nuskhe aur fayde.

खाने को स्वादिष्ट और मजेदार बनाने के लिए तेज पत्ते का हम इस्तेमाल करते हैं. दरअसल हम तेज पत्ते के गुणों के बारे में अनजान हैं, इसका उपयोग हम सिर्फ खाना बनाने के लिए ही करते हैं. क्या आप तेज पत्ते के घरेलु नुस्खे, उपाय आदि और उससे होने वाले फायदे के बारे में जानते हैं? क्या कहा नहीं पता हैं? तो कोई बात नहीं आज हम तेजपत्ते के फायदे और उसके घरेलु नुस्खे आदि के बारे में जानेंगे.

तेज पत्ता जिसे तेज पात या Bay Leaf कहा जाता हैं इस के बहुत ही फायदे हैं. इंडियन किचन में खाने का स्वाद और खुश्बू बढ़ाने के लिए इस्तेमाल में लाया जाने वाला तेज पत्ता (बे लीफ) एक महत्वपूर्ण मसाला हैं. इसे तेजपात (तेज़ पत्ता) भी कहा जाता हैं. इसका स्वाद कड़वा होता हैं और सूखने के बाद यह बिल्कुल कड़क हो जाता हैं. स्वाद और खुसबू के मामले में यह काफ़ी हद तक दालचीनी के जैसा होता हैं. यह पाउडर के रूप में भी आसानी से मिल जाता हैं, लेकिन हम सभी इसे पत्ते के रूप में ज़्यादा इस्तेमाल करते हैं. तेज पत्ते को कई बीमारियो के इलाज के लिए इस्तेमाल में लाया जाता हैं.

आइए जानते हैं तेज पत्ते से सेहत को होने वाले फायदे के बारे में :-

घाव (जख्म) भरने में कारगर

तेजपत्ता घाव को जल्दी भरने में बहुत ही मददगार होता हैं. साँप काटने पर ज़हर निकालने से लेकर कीड़े-मकौड़े के काटने जैसी समस्याओं के इलाज में इसका इस्तेमाल किया जाता हैं. इन पत्तो के तेल में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होता हैं, जो स्किन को इन्फेक्शन से बचाता हैं.

जूओं को करे दूर

सीर में जूओं से परेशान हैं, तो तेज पत्ता आपके बहुत काम आ सकता हैं. पानी में तेज पत्तो को अच्छी तरह से मसलकर डाले और उसे खूब उबाले. जब तक पानी आधा ना रह जाए. इस पानी को बालो की जड़ो में लगाए. जू की समस्या दूर हो जाएगी. साथ ही बाल भी घने और चमकदार होते हैं.

जरूर पढ़े :- सिर से जुएँ मारने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

डायबिटीज का इलाज

टाइप-2 डायबिटीज के इलाज में तेज पत्ता बहुत ही फायदेमंद होता हैं. यह ब्लड ग्लूकोज, कोलेस्टरॉल और ट्राइग्लिसराइड के लेवल को कम करता हैं. इसके जल्दी असर के लिए इन पत्तो का पाउडर लगातार 30 दिनों तक इस्तेमाल करते रहना चाहिए. इससे दिल सही तरीके से काम करता हैं. तेज़ पत्ता एंटी-ऑक्सिडेंट्स से भरपूर होता हैं जो डायबिटीज काफ़ी हद तक कंट्रोल करता हैं.

डाइजेशन के लिए ज़रूरी

खाने में तेजपात के इस्तेमाल से डाइजेशन सही रहता हैं. साथ ही पेट की जलन की समस्या को भी दूर करता हैं. गरम पानी में तेज पत्ते को मिला कर पीने से गैस, अपच, क़ब्ज़ जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता हैं. अपच की प्राब्लम होने पर तेजपत्ता और अदरक को पानी में डाल कर अच्छे से उबाले. पानी कम हों जाने पर उसमे शहद मिला कर दिन में 2 बार पीने से काफ़ी आराम मिलता हैं. बुखार की समस्या में भी इस नुस्खे का इस्तेमाल किया जा सकता हैं.

कार्डियोवॅस्क्युलर हेल्थ

तेज पत्ता फाइटोनुट्रीएंट्स से भरपूर होता हैं, जो कार्डियोवॅस्क्युलर बीमारियो जैसे हार्ट अटैक और स्ट्रोक की संभावना को कम करता हैं. इसके अलावा इसमे Salicylates, Phytonutrients, Routine, Caffeic acid मौज़ूद होते हैं जो हार्ट के फंक्शन को सही रखते हैं. इस तरह की किसी भी संभावना नज़र आने पर तेजपत्ता और गुलाब के फूलो को पानी में अच्छी तरह से उबाले जब तक पानी आधा ना रह जाए. ठंडा होने पर इसे पिए.

बढ़े हुए हार्ट रेट को कम करने के तरीके, उपाय और नुस्खे।

सर्दी जुकाम में आराम

सर्दी-जुकाम या किसी भी प्रकार के अन्य इन्फेक्शन से छुटकारा दिलाने में तेजपत्ते का इस्तेमाल बहुत ही कारगर होता हैं. साँस की बीमारियो में आराम के लिए 2-3 तेज पत्ते को पानी में 10 मिनट तक उबाले. इस पानी में कॉटन या टावल को भिगो कर निचोड़ ले और उसे सीने पर रखे. तेज पत्ते से बनी हुई चाय बुखार में बहुत जल्दी आराम दिलाती हैं.

दर्द में आराम

इन पत्तो से निकालने वाले तेल में एंटी-इनफ्लमेटरी गुण पाए जाते हैं जो दर्द, ऐंठन, आर्थराइटिस, खिचाव आदि को दूर करने में मददगार होते हैं. यह पिंपल्स को ठीक करते हैं. कान के पीछे इसके तेल की मालिश करने से माइग्रेन और सीरदर्द में आराम मिलता हैं. ब्लड सर्क्युलेशन को सही रखने के साथ ही यह जोड़ो के दर्द को भी दूर करते हैं. पानी में तेज़ पत्ता डाल कर उबाले और ठंडा करके पिए.

पीरियड्स की समस्या में

फॉलिक एसिड से भरपूर तेज पत्ता प्रेग्नेन्सी के 3 महीने पहले और बाद, दोनो ही सिचुयेशन में शरीर की कमी को पूरी करता हैं. साथ ही शिशु के जन्म के समय होने वाली कई प्रॉब्लम्स को दूर करता हैं.

नाक से खून आने के समस्या को बंद करता हैं

गर्मियो में, ज़्यादा खट्टा खाने से और कुछ कारणों से नाक से खून निकलना एक आम समस्या हैं. इसके लिए 2-3 तेज पत्ते को पानी में उबाले जब तक पानी आधा ना रह जाए. ठंडा होने पर इसे पी ले. नाक से खून निकलना बंद हो जाता हैं.

नकसीर का इलाज कैसे करे?

सही नींद के लिए

सोने से पहले तेजपात को किसी भी रूप में लेने से नींद अच्छी आती हैं. इसके लिए तेज पत्ते को पानी में मिलाए और अच्छे से चलते हुए इसे पी ले. सही नींद सेहत के लिए बहुत ही ज़रूरी हैं.

जरूर पढ़े :- अच्छी नींद के लिए 10 जरूरी टिप्स।

बालो से डैंड्रफ मिटाने में

सिर्फ़ खाने का स्वाद ही नही बढ़ाता हैं, बल्कि हेल्थ को भी सही रखता हैं. बालो की झड़ने की समस्या से परेशान हैं तो इसका इस्तेमाल आज से ही शुरू कर दीजिए.

किडनी स्टोन की प्राब्लम ख़त्म

तेज पत्ता ना सिर्फ़ किडनी के इन्फेक्शन को दूर करता हैं, बल्कि स्टोन की समस्या को भी ख़त्म करता हैं. स्टोन प्राब्लम होने पर गरम पानी में तेज पत्ते को उबाले और ठंडा करके पिए. काफ़ी फायदा होता हैं.



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...