नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले इन बातो का ख्याल रखे.

नया स्मार्टफोन कैसे खरीदे?

स्मार्टफोन फोन खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान

मार्केट में आए दिन नए-नए ब्रांड और फीचर्स के साथ स्मार्टफोन लॉन्च हो रहे हैं। इनमें से बेस्ट हैंडसेट खरीदना बड़ा फैसला है। यदि आप भी नया स्मार्टफोन खरीदने जा रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रखें…

1.आज कल ऐप्स और वीडियोज बड़ी स्क्रीन के हिसाब से बनाए जाते हैं। ऐसे में छोटी स्क्रीन पर वीडियो अच्छी क्वालिटी में दिखाई नहीं देता। इसके अलावा छोटी स्क्रीन गेमिंग के लिए भी ठीक नहीं है। अगर आपको बहुत ज्यादा बड़ी स्क्रीन वाला स्मार्टफोन पसंद नहीं है तो 4.5 से 5 इंच तक के स्मार्टफोन ले सकते हैं। ये पकड़ने में आसान होते हैं और डिस्प्ले क्वालिटी भी सही दिखाई देती है। अगर बजट कम होने के कारण आप छोटी डिस्प्ले वाला फोन ले रहे हैं तो आपको बता दें कि आपको 4 से 5 हजार रुपए की रेंज में 5 इंच डिस्प्ले वाला बढ़िया फोन मिल जाएगा।

2.मार्केट में 2 GB रैम, क्वाडकोर प्रोसेसर या 2GB रैम ऑक्टाकोर प्रोसेसर वाले काफी स्मार्टफोन्स अवेलेबल हैं। गेमिंग और फास्ट प्रोसेसिंग के लिए फोन में कम से कम 2 GB रैम होना जरूरी है। बजट फोन खरीदते समय 1GB रैम वाले स्मार्टफोन न चुनें।

3.फोन खरीदने से पहले बॉक्स पर दिए गए फोन के फीचर्स को अच्छे से पढ़ें। अगर 3G नेटवर्क पर फोन की बैटरी लाइफ 11-12 घंटे की नहीं है तो ये फोन न खरीदें। मार्केट में ऐसे हजारों स्मार्टफोन्स हैं जो अच्छी बैटरी बैकअप तो देते ही हैं साथ ही बैटरी सेविंग फीचर और क्विक चार्ज सपोर्ट के साथ आते हैं।

4.पुराने स्मार्टफोन खरीदने पर आपको वो सारे फीचर्स नहीं मिलेंगे जो लेटेस्ट में मिलते हैं। 2016 में 2015 का लॉन्च हुआ प्रीमियम स्मार्टफोन खरीदना रिस्की हो सकता है। हर साल कंपनियां अपने नए फ्लैगशिप लॉन्च करती हैं। ऐसे में अगर आप प्रीमियम स्मार्टफोन खरीद रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि वो लेटेस्ट हो। इसमें कई ऐसे फीचर्स मिलेंगे जो 2015 में लॉन्च हुए स्मार्टफोन में ना हो।

5. 5 या उससे कम मेगापिक्सल रियर कैमरा वाले स्मार्टफोन सिर्फ 2592×1944 रेजोल्यूशन सपोर्ट करते हैं। इसका मतलब हुआ 72 पिक्सल्स पर इंच जो कि फोटो के लिए काफी कम है। आजकल बजट फोन में भी 8 और 13 मेगापिक्सल वाले रियर कैमरा आते हैं। इसलिए 5 या उससे कम रियर कैमरा वाला फोन काफी ओल्ड फैशन होगा। अगर आप सेल्फी लवर हैं तो 5 मेगापिक्सल से कम फ्रंट कैमरा वाला फोन न खरीदें।

6.इंडिया में 4G नेटवर्क बड़े शहरों में अवेलेबल हो गया है। कुछ गावों और कस्बों को छोड़ दिया जाए तो 3G नेटवर्क लगभग सब जगह है। इसका मतलब है कि आपको अपने शहर के हिसाब से सही हैंडसेट खरीदना कितना जरूरी है। अगर आप छोटे कस्बों में अपना फोन यूज नहीं करने वाले तो आपको 2G फोन खरीदने की जरूरत नहीं है। ऐसे में 3G और 4G हैंडसेट लेना ही ठीक होगा।

7.बैटरी हीट होने पर फोन को हाथ में पकड़ना मुश्किल होता है। साथ ही ये रिस्की भी होता है। ऐसे फोन में यूजर ज्यादा देर तक गेम नहीं खेल सकते। साथ ही इसकी परफॉर्मेंस भी स्लो होने लगती है। कभी भी स्मार्टफोन खरीदने से पहले उसका रिव्यू जरूर पढ़ें। कंपनी का कम्युनिटी पेज भी देखें, कहीं किसी यूजर ने हैंडसेट के बारे में कोई शिकायत तो दर्ज नहीं कराई। ऐसा करने से आप खराब हैंडसेट लेने से बच जाएंगे।

8.डिस्प्ले प्रोटेक्शन के बिना फोन की स्क्रीन ज्यादा दिन नहीं चल सकती। ये तब और जरूरी हो जाता है जब यूरज अपने फोन को काफी रफली यूज करता हो। स्क्रीन प्रोटेक्शन न होने से फोन गिरकर टूट भी सकता है। फोन में गोरिल्ला ग्लास 2/3 का प्रोटेक्शन होना जरूरी है। अगर आप प्रीमियम फोन ले रहे हैं तो इस बात की तसल्ली कर लें कि ये वाटर और डस्ट प्रूफ हो।

9. नई कंपनियों के सर्विस सेंटर कम ही होते हैं। फोन में दिक्कत आने पर आफ्टर सेल सर्विस न मिलना या सर्विस सेंटर ही न होना काफी इरिटेटिंग होता है। ऐसे में यूजर उस ब्रांड का स्मार्टफोन दोबारा नहीं खरीदेगा। नए ब्रांड के स्मार्टफोन खरीदने से पहले इसके सर्विस सेंटर के बारे में छोड़ी जानकारी ले लें। हो सकता है कि ये एकदम आपके आप-पास न हो लेकिन आपके शहर में उस कंपनी के कुछ सर्विस सेंटर तो हों। जो फोन में दिक्कत आने पर सही सर्विस दे सकें।

Keywords :- Smartphone khareedne se pahle in baaton ka dhyaan rakhe. Tips for buying  new smartphone in Hindi. Smartphone kaise khareede. Smartphone khareedne se pahle in baaton ko jaane.



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

One thought on “नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले इन बातो का ख्याल रखे.

Comments are closed.