नहाने से पहले याद रखने वाली 12 जरूरी बातें।

नहाने से पहले रखें इन 12 बातों का ध्यान

रोजाना नहाने से शरीर हमेशा निरोगी और स्वस्थ्य रहता हैं। इससे आपके शरीर की गन्दगी दूर होती हैं और मन प्रसन्न हो जाता हैं। स्नान करने से एक तो आपको ख़ुशी मिलती हैं, दुसरा आप काफी ज्यादा आकर्षित भी दिखाई देने लगते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार प्रत्येक मनुष्य को नहाने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरूरी हैं। मतलब की इन बातों को ध्यान में रख कर स्नान किया जाये तो आपको काफी ज्यादा लाभ मिलेगा।

नहाने से पहले क्या करना चाहिए? आइये जानते हैं :-

शास्त्रों में वर्णित हैं की सुबह के समय स्नान करने से पाप नष्ट होते हैं और पुण्य की प्राप्ति होती हैं। ऐसा भी कहा गया हैं की सुबह के समय नहाने वाले व्यक्ति के पास भूत-प्रेत आदि नहीं फटकते हैं। इसलिए हमेशा सुबह के समय स्नान जरूर करना चाहिए।

शास्त्रों के मुताबिक सुबह के समय लालीमा छाने से पहले ही नहा लेना चाहिए। यह स्नान करने का सबसे अच्छा समय हैं।

■ पवित्र नदियों में स्नान करने के बाद इसमें कपड़ा नहीं निचोड़ना चाहिए। नदी में किसी भी प्रकार की गंदगी नहीं प्रवाहित करनी चाहिए।

■ स्नान करने के बाद शुद्ध होकर ही पूजा-पाठ और जप आदि जैसे कार्य किये जा सकते हैं। इसलिए सुबह के समय ही नहा लेना चाहिए।

■ माँ गंगा का कथन हैं की स्नान करते हुए जब कोई मनुष्य मुझे स्मरण करेगा, तो मैं वहां के जल में आ जाउंगी। इसलिए स्नान करते समय माँ गंगा के उन कथनों के श्लोक को पढ़ना चाहिए जो की यह हैं :-

नन्दिनी नलिनी सीता मालती च महापगा।
विष्णुपादाब्जसम्भूता गंगा त्रिपथगामिनी।।
भागीरथी भोगवती जाह्नवी त्रिदशेश्वरी।
द्वादशैतानि नामानि यत्र यत्र जलाशय।
स्नानोद्यत: स्मरेन्नित्यं तत्र तत्र वसाम्यहम्।।

■ बीमार होने पर सिर के निचे से ही स्नान करे। गीले कपड़े से शरीर को पोछ लेना भी एक तरह का स्नान ही हैं।

■ नदी की धारा या सूर्य की ओर मुख करके ही स्नान करे। नदी में 3, 5, 7 या 12 डुबकी लगाना शुभ माना गया हैं।

■ किस स्रोत का पानी नहाने के लिए श्रेष्ठ हैं, इसका वर्णन शास्त्रों में मिलता हैं। कुएं के पानी के मुकाबले झरने का पानी, झरने के पानी की तुलना में नदी का पानी, नदी के पानी के मुकाबले किसी तीर्थ का जल और तीर्थ जल में गंगाजल सबसे बढ़िया होता हैं।

जरूर पढ़े :- नहाने के पानी में इन चीजों को मिला कर नहाये और पाए गज़ब के फायदे।

■ शास्त्रों की माने तो प्रतिदिन स्नान करने से मनुष्य को 10 गुणों की प्राप्ति होती हैं। वह गुण इस प्रकार हैं :- आरोग्य, बल, तेज, रूप, पवित्रता, तप, दुःस्वपन से मुक्ति, आयु, निर्लोभता और मेधा।

■ जिन घाटों पर कपड़े धोये जाते हैं, वहां का जल अपवित्र होता हैं। इसलिए उस स्थान से कुछ दूर हटकर ही स्नान करना चाहिए।

■ तेल लगा कर और देह को मलकर कर नदी में स्नान नहीं करना चाहिए। इसकी जगह पर नदी से बाहर आकर तट पर ही शरीर को साफ करने के बाद ही नदी में डुबकी लगानी चाहिए।

■ आरोग्य (सेहत), पुष्टि और लक्ष्मी (धन) की चाहत रखने वाले मनुष्य को हर मौसम में प्रतिदिन नहाने की सलाह शास्त्र देते हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

2 thoughts on “नहाने से पहले याद रखने वाली 12 जरूरी बातें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *