बवासीर से छुटकारा पाने के लिए मूली का इस्तेमाल ऐसे करे।

बवासीर में मूली क्यों खाना चाहिए? मूली बवासीर में कैसे रामबाण है और यह इसे कैसे खत्म कर सकती है?

पाइल्स एक ऐसी दर्दनाक बीमारी हैं, जिसको हो जाये बस वहीँ जानता हैं। दरअसल बवासीर होने पर गुदाद्वार में छोटे-छोटे मस्से बन जाते है। समय बीतने के साथ यह मस्सें बड़े होने लगते हैं, जिसके कारण गुदा मार्ग में हर समय दर्द और खुजली बनी रहती हैं।

आपने यह अक्सर सूना होगा की बवासीर के इलाज में मूली काफी ज्यादा कारगर होती है। जी हाँ, मूली के सेवन से बवासीर (पाइल्स) को दूर किया जा सकता हैं। आइये जानते हैं की बवासीर से छुटकारा पाने के लिये मूली का कैसे प्रयोग करना चाहिए।

वैसे तो आप मूली को कच्चा यानी सलाद बना कर भी खा सकते हैं। यह बवासीर की बीमारी को जल्दी ठीक करती है। साथ ही बवासीर होने पर मूली का सेवन करने से यह बीमारी गंभीर नहीं बनती हैं। मूली को रोजाना खाने से बवासीर की बीमारी कुछ ही महीनो में ठीक हो जाती है।

अगर किसी व्यक्ति को बवासीर की समस्या हैं तो उसे मूली जरूर खानी चाहिए। इसके अलावा बवासीर के रोगी को मूली के अलावा अपनी डाइट में ढेर सारे फलों को शामिल करना चाहिए।

अगर मूली खाना पसंद न हो?

अगर आपको मूली खाना अच्छा नहीं लगता हैं तो आप मूली का रस निकाल कर भी पी सकते हैं। मूली के एक गिलास जूस में चुटकी भर नमक मिला कर दिन में 2 बार पीना चाहिए। इससे आपको काफी ज्यादा आराम मिलेगा।

जरूर पढ़े :- मूली का जूस पीने के 18 फायदे जानिए।

बवासीर के इलाज के लिए मूली को इस्तेमाल करने का पहला तरीका :-

बवासीर के शुरुवाती दौर में ही रोकने के लिए आप 100 ग्राम को घीस कर उसमे एक चम्मच शहद मिला ले। इस मिश्रण को दिन में 2 बार खाए। इससे कब्ज़ से निजात मिलती हैं और बवासीर के दर्द से भी आराम मिलता हैं।

दूसरा तरीका :-

अगर पाइल्स के दर्द और जलन से बहुत ज्यादा पीड़ित हैं यानी बवासीर की बीमारी से बहुत ही अधिक परेशान हैं। तो मूली के इस्तेमाल करने के लिए दूसरी विधि यह हैं। सफेद मूली का पेस्ट बनाये और इसमें थोड़ा सा दूध मिक्स करले। इस पेस्ट को बवासीर पर लगाये, मतलब उस जगह पर लगाये जहाँ पर दर्द और जलन ज्यादा है।

अन्य तरीका :-

मूली के पत्तों को लेकर छाया में सूखा ले और इन्हें पीस कर पाउडर बना ले। प्रतिदिन मूली की पत्तियों से बने पाउडर की एक चम्मच मात्रा लगातार 40 दिनों तक खाए। इससे भी बवासीर के उपचार में मदद मिलती हैं।

जरूर पढ़े :- बवासीर (piles) के इलाज एवं उपचार के लिए उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

आखिर मूली बवासीर को कैसे ठीक कर देती हैं?

मूली में बहुत ही अच्छी मात्रा में घुलनशील फाइबर होते हैं, जो मल (पॉटी) को नर्म बनाते है, साथ ही इससे भोजन भी आसानी के साथ हजम हो जाता है। मूली में उड़नशील तेल पाया जाता हैं जो बवासीर में पैदा होने वाले दर्द और सूजन को समाप्त करता हैं। वैसे भी मूली खाने से सेहत को ढेर सारे फायदे होते है।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

लीची खाने के फायदे और नुकसान जानिए।
करेला खाने के 16 फायदे जानिए
हाइपरएक्टीव थायरोइड के बारे में जरूरी जानकारी।
गाय का दूध और भैंस के दूध में कौन सा दूध पीना ज्यादा अच्छा रहेगा.
पालक खाईये और बीमारियों को दूर भगाइये...
पथरी होने के लक्षण और इससे बचने के तरीके और उपाय।
धूप सेंकने के फायदे जरूर पढ़े यह रोचक ज्ञानवर्धक लेख।
केले के फूल खाने के फायदे जरूर पढ़े।
ख़राब कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए क्या खाना चाहिए?
इन चीजों को खाने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती हैं।
सनटैन ख़त्म करने के लिए असरदार घरेलु नुस्खे एवं उपाय।
कोहनी का कालापन दूर करने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।