पानी पीने का सही समय क्या हैं? पानी कब पीना चाहिए?

पानी पीने का सही समय क्या हैं? पानी कब पीना चाहिए?

ऐसा माना जाता हैं की एक स्वस्थ्य मनुष्य को रोजाना 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए। कम पानी पीने की वजह से आपको कई सारी बीमारियाँ भी हो सकती हैं। पानी हमारी अच्छी सेहत के लिए बहुत ही जरूरी तत्व हैं। आपका पेट 50% तक भोजन से, ¼ भाग पानी से और बाकि ¼ भाग हवा से भरा होना चाहिए। पानी पीते समय कुछ बातों का ख्याल रखना भी जरूरी होता हैं। आइये जानते हैं पानी पीने के लिए सही या उचित समय क्या हैं? पानी पीने के लिए खराब समय किसे माना गया हैं? What is Right Time to Drink Water (Tips in Hindi.)

पानी पीने के लिए सही समय

नहाने से पहले पानी पीना

नहाने से पहले पानी पीने से ब्लड प्रेशर कम होता हैं। लेकिन अगर आप गर्म पानी से नहाने जा रहे हैं तो नहाने से पहले ठंडा पानी पीने से बचना चाहिए।

खाना खाने के आधा घंटे पहले पानी पीना

खाना खाने से पहले अगर आप पानी पीते हैं तो आप भूख से कम खाना खाते हैं। जिसकी वजह से मोटापा आपसे दूर रहता हैं और वजन भी कण्ट्रोल में रहता हैं। इससे आपकी आंते भी ठीक रहती हैं।

सुबह उठने के बाद खाली पेट पानी पीना

सुबह उठने के बाद खाली पेट 1 से 2 गिलास पानी पीना चाहिए। इससे शरीर की अंदरूनी सफाई हो जाती हैं और शरीर से ज़हरीले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। सुबह खाली पेट पानी पीने से पेट और स्किन दोनों को लाभ होता हैं।

दिन की शुरुवात में ढेर सारा पानी पीजिये

दिन भर में आपको ढेर सारा पानी पीना चाहिए, लेकिन जैसे जैसे शाम होने लगे आपको पानी पीना कम कर देना चाहिए। क्योंकि रात भर आपको बाथरूम जाना पड़ सकता हैं।

थकान महसूस होने पर पानी पिए

मनुष्य का दिमाग 75% पानी से भरा हुआ है। इसलिए थकान लगने पर पानी पीने से आपका दिमाग अच्छी तरह से काम करता हैं और काम में आपका मन भी पूरी तरह से लगता हैं।

कसरत करने से पहले और अंत में पानी पिए

कसरत करने जा रहे हैं तो उससे पहले पानी जरूर पिए। इससे आपके मसल्स को एनर्जी मिलती हैं। पानी पीने से आपको थकान भी कम लगती हैं। अगर आप पानी नहीं पीते हैं आप जल्दी थक जाते हैं।

भूख लगने पर पानी पीना

अगर आपको भूख लगी हैं तो सबसे पहले पानी पीजिये, फिर 10 मिनट तक इंतज़ार कीजिये। फिर भी आपकी भूख नहीं मिट रही हैं तो कुछ खा लीजिये। ऐसा करने से आप फ़ालतू के नमकीन, स्नैक्स खाने से बच जायेंगे।

बिमारी, स्तनपान करवाते समय और गर्भावस्था में पानी पीना

अगर आप बीमार हैं तो पानी पीने से आपका शरीर जल्द से जल्द रिपेयर हो जाता हैं। गर्भवती और दूध पिलाने वाली माओं को आम दिनों के मुकाबले ज्यादा मात्रा में पानी की जरूरत होती हैं। इन्हें प्रतिदिन कम से कम 10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए।

पानी पीने को लेकर कुछ जरूरी सावधानियां

खाना खाने के तुरंत बाद या पहले पानी नहीं पीना चाहिए

खाना खाने के 1 घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए। क्योंकि खाने के तुरंत बाद पानी पीने से पेट में खाना पचाने वाले रस पर असर पड़ता हैं, जिससे आपको पाचन से सम्बंधित समस्याएं हो सकती हैं। अगर आप खाना खाने के तुरंत पहले या बाद में पानी पीते हैं तो आपका भोजन भी जल्दी से हजम नहीं हो पाता हैं।

पानी की जगह छाछ, दही या रायता लीजिये

अगर आपको खाना खाते समय प्यास लग जाये तो आप पानी की जगह दही या रायता ले सकते हैं। आप चाहे तो लस्सी, छाछ या मट्ठा भी पी सकते हैं। इससे आपके शरीर को ठंडक मिलती हैं और खाना भी आसानी से हजम हो जाता हैं।

बाहर का पानी नहीं पीना चाहिए

बाहर का पानी पीने से बचना चाहिए, क्योंकि खराब एवं दूषित पानी पीने से आपकी किडनी और लीवर खराब हो सकते हैं। इन दोनों में इन्फेक्शन भी हो सकता हैं, जिससे इसका असर दिल पर भी पड़ता हैं।

खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए

ऐसी मान्यता हैं की कभी भी खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि खड़े होकर पानी पीने से एक उम्र के बाद घुटनों का दर्द परेशान कर सकता हैं। जो लोग खड़े होकर पानी पीते हैं, उम्र बढ़ने के बाद उनका घुटना खराब हो जाता हैं। इसलिए खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...