तांबे के बर्तन का इस्तेमाल पूजा में क्यों किया जाता है?

पूजा के लिए के लोटे या बर्तन का प्रयोग होना

क्या आप जानते हैं की पूजा करने के लिए तांबे के बर्तन या तांबे के लोटे का ही क्यों इस्तेमाल किया जाता हैं? हिन्दू धर्म में कई सारी मान्यताएं और परम्पराए हैं, जिसमे कई सारे रीती-रिवाज जुड़े हुए हैं। हमारे यहाँ कोई भी शुभ काम किसी खास मुहूर्त के दौरान ही किया जाता है।

अक्सर आप लोगो ने अपने पूजा घर में देखा होगा या फिर किसी को पूजा करते हुए देखा होगा की पूजा में इस्तेमाल किया जाने वाला जल तांबे के लोटे में ही रखा हुआ हैं। आखिर ऐसी क्या वजह हैं की अन्य धातु से बने कलश का इस्तेमाल पूजा में नहीं किया जाता हैं, बल्कि तांबे के धातु से बने हुए पात्र ही पूजा में प्रयोग किये जाते हैं?

साइंटिस्ट भी इस बात को स्वीकार करते हैं की पूजा करने के लिए तांबे के बर्तन श्रेष्ठ होते हैं। पूजा करते समय ताम्बे के पात्रों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। तांबे के बर्तनों के बारे में यह कहा जाता हैं की यह सबसे ज्यादा शुद्ध होते हैं। तांबे के बर्तनों को किसी दूसरी धातु के साथ मिश्रित करके नहीं बनाया गया होता हैं। आयुर्वेद के अनुसार तांबे के बर्तन में रखा हुआ पानी शुद्ध बन जाता हैं। पानी के अंदर के कीटाणु मर जाते हैं। इसलिए तांबे के लोटे में रखे गये जल का इस्तेमाल पूजा करने के लिए किया जाता हैं।

जरूर पढ़े :- पूजा करते समय जरूर रखे इन बातों का ध्यान।

जब भी किसी देवी-देवता की पूजा की जाती हैं तो तांबे के लोटे में तुलसी के पत्तों को डाला जाता हैं। ऐसी मान्यता हैं की बिना तुलसी के पत्तों को डाले भगवान भोग को ग्रहण नहीं करते हैं। साथ ही तांबे के बर्तन में तुलसी के पत्ते वाला पानी सेहत के लिए काफी ज्यादा लाभकारी होता हैं। इसका सेवन करने से फेफड़ों से जुड़ी समस्याओं से मुक्ति मिलती हैं।

तांबे के बर्तन में रखे गये पानी को पीने के अपने ही कुछ खास फायदे हैं। यह पेट के लिए काफी ज्यादा उत्तम हैं। इससे पेट से जुड़ी समस्याएं समाप्त होने लगती हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

ज्वाला देवी शक्तिपीठ से जुड़ी 7 ऐसी बातें, जो इसे बनाती हैं और भी खास
विष्णु पुराण की माने तो रात के समय यह काम भूलकर भी नहीं करने चाहिए।
बाल सफ़ेद होने की वजह यह हैं.
नहाने से पहले खाना क्यों नहीं खाना चाहिए?
मालिक की जान बचाने के लिए 4 कोबरा सांपो से लड़ा वफ़ादार कुत्ता, लेकिन.....
हग करने (गले लगाने) के होते हैं यह कमाल के फायदे.
जानिए नवजोत सिंह सिद्धू से जुडी 10 रोचक बातें.
विश्व में सबसे ज्यादा सबसे कम के बारे में सामान्य ज्ञान.
दुनिया का 7 अजूबे के बारे में जानिए.
आखिर वकील काला कोट ही क्यों पहनते हैं?
महाशिवरात्रि की व्रत कथा और इसका महत्व और कैसे मनाना चाहिए?
वास्तु के अनुसार घर में फिश एक्वेरियम रखने से कैसे होता हैं फायदा।