पेट ख़राब होने पर इन चीजों को नहीं खाना चाहिए।

पेट ख़राब होने पर इन चीजों को नहीं खाना चाहिए।

क्या आपको पता हैं की पेट ख़राब होने पर कौन सी चीज़े और खाद्य पदार्थ (फूड) ऐसे हैं, जिन्हें बिलकुल भी नहीं खाना चाहिए? अगर आपको मतली आ रही हैं और पेट भी ख़राब हैं तो कुछ भी खाने से पहले यह जान ले की कंही उससे आपकी परेशानी और भी ज्यादा तो नहीं न बढ़ जाएगी।

तनिक भी गलत खानपान पेट को खराब कर देता हैं। इसका कारण यह होता हैं की खाना सही तरह से पच नहीं पाता हैं। यही कारण हैं की पेट ख़राब होने (पेटदर्द, गैस, अपच, एसिडिटी अदि) के दौरान अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। जानते हैं ऐसे समय पर कौन सी चीजों को नहीं खाना चाहिए? पेट के ख़राब होने पर किन खाने वाली चीजों और आहार से परहेज़ रखना चाहिए?

पेट ख़राब होने पर यह चीज़े न खाए :-

पैकेट बंद खाने और मैदा वाले खाद्य पदार्थ न खाए

कब्ज़ होने पर पैक्ड फ़ूड जैसे की जेली, जैम, नूडल्स आदि मैदे से बने व्यंजनों को खाने से परहेज़ करना ही ठीक रहता हैं। फाइबर न होने के कारण इनका पाचन बहुत ही धीमी रफ़्तार के साथ होता हैं। ज्यादातर पैक्ड फ़ूड में आर्टिफिशियल कलर और स्वीटनर मिलाये गये होते हैं, इनके सेवन से आपको गैस, अपच और एसिडिटी की समस्या हो सकती हैं।

अधिक तेल और मसाले वाला भोजन

अगर आपका जी मचल रहा हैं और आप दस्त से भी पीड़ित हैं तो तेल मसाले वाले भोजन से दूरी बनाये रखे। ऐसी हालत में हल्का खाना और ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए। ककड़ी, खीरा, दही-चावल, उबले आलू, केला आदि खाने से आपको उर्जा मिलती हैं।

खट्टी चीज़े न खाए

पेट अगर भारी-भारी महसूस हो रहा है, दस्त लगे हैं और पेट में गैस बन रही हैं। पेट में दर्द और मरोड़ उठ रही हैं तो ऐसी हालत में टमाटर की सॉस या खट्टे फलों को नहीं खाना चाहिए। इसके अलावा जिन खाद्य पदार्थो में मीठा सोडा का इस्तेमाल किया गया हैं, उसका सेवन करने से भी यह समस्याएं और भी ज्यादा बढ़ जाती हैं।

चाय, कॉफ़ी और चॉकलेट को कहे अलविदा

एसिडिटी की समस्या होने पर चाय, कॉफ़ी और चॉकलेट खाने की गलती न करे। क्योंकि इनमे कैफीन पाया जाता हैं जो पेट में एसिड की मात्रा को और भी ज्यादा बढ़ाता हैं। इसके अलावा ज्यादा कैफीन के सेवन से कब्ज़ होने की समस्या पैदा हो जाती हैं। अगर आपको हमेशा एसिडिटी बनी रहती हैं तो आम दिनों में भी चाय, कॉफ़ी आदि का सेवन बहुत ही कम मात्रा में करना चाहिए। और अगर आप चाय, कॉफ़ी पी भी रहे हैं तो इनके साथ आप खाखरा, नमकीन, बिस्कुट, चने, टोस्ट आदि को भी खाए।

ब्लैक कॉफ़ी और नार्मल कॉफ़ी में कौन सी कॉफ़ी हैं ज्यादा अच्छी?

cheese, आइसक्रीम और मक्खन खाने से बचे

आपका पाचन तंत्र कितना भी ज्यादा मजबूत क्यों न हो, लेकिन वसा को पचाने के लिए उसे काफी मेहनत करनी पड़ती हैं। इससे पाचन तंत्र में पानी में ज्यादा मात्रा में लगता हैं। डायरिया होने पर फैट वाली चीजों का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। ऐसी नाज़ुक हालत में आपको cheese, आइसक्रीम, मक्खन, पेस्टी, पेस्टेरीज़, घी, तेल, मीट, क्रीम आदि को खाने से बचना चाहिए।

दूध और इससे बनी चीजों को न खाए

दूध और इससे बनी चीजों का ज्यादा सेवन करने से भी पेट ख़राब हो जाता हैं। क्योंकि इन्हें पचने में काफी समय लगता हैं। दूध और इससे बने खाद्य पदार्थो में लेक्टोज़ ज्यादा मात्रा में होते हैं, जिनके पचने पर पेट में गैस और सूजन की समस्या हो सकती हैं। हमेशा अपच के दौरान दूध या दूध से बनी चीजों को खाने से परहेज़ करना चाहिए। हाँ दही और cheese क्यूब को आप खा सकते हैं, क्योंकि इनमे Lactose कम पाए जाते हैं।

पेट के भारीपन से छुटकारा पाने के टिप्स :-

खाना खाते समय अगर आपके पेट में भारीपन महसूस हो तो इन टिप्स को फॉलो करे।

1. अजवाइन का इस्तेमाल करे :- अजवाइन के पत्ते और बीज, दोनों ही अपने आप में चमत्कारी हैं। इसे दाल, सब्जी या सलाद में जरूर शामिल करना चाहिए, जिससे आप पेट की तखलीफ़ो से बचे रहेंगे। अजवाइन का सेवन करने से पाचन क्रिया सुधरती हैं और एसिडिटी की समस्या से छुटकारा मिलता हैं।

2. सूप पीजिये :- अगर आपकी समस्या ज्यादा बढ़ गयी हैं तो फाइबर से भरपूर सब्जियों का सूप बना कर पीजिये। अगर सब्जियों को पचाने में परेशानी होती हैं तो उनका सेवन ग्रेवी या प्यूरी के रूप में करे।

Soup

3. फल और दही के द्वारा :- कई बार खाली पेट खास तौर पर सेब या नाशपाती को खाने से भी पेट में गैस बनने लगती हैं। क्योंकि इनमे फ्रुक्टोज़ की मात्रा ज्यादा पायी जाती हैं। इससे पेट में भारीपन होने लगता हैं, अगर आपके साथ भी ऐसा होता हैं तो फलो को दही के साथ मिला कर खाए। दही में पाए जाने वाले बैक्टीरिया फलो के पोषक तत्वों के साथ मिल कर आपको और भी ज्यादा हेल्दी बनाते हैं।

डायरिया होने पर

• चावल, साबूदाने, आलू का सेवन करना लाभकारी होगा।

• ताज़ा दही और मलाई रहित छाछ का सेवन करने से लाभ मिलता हैं।

• जौ को पका कर पतला घोल बनाये। इसे छाने और छाछ में मिला कर 3 से 4 बार ले। शरीर को जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं और इन्फेक्शन भी दूर हो जाता हैं।

एसिडिटी होने पर

○ निम्बू पानी और पुदीने का शरबत पीने से बहुत ज्यादा फायदा मिलता हैं।

Garm paani+Shahad aur nimbu ka ras mila kar peene ke fayde. Benefits of Hot water+ Lemon+ Honey in Hindi.

○ एक गिलास पानी में 2 चम्मच सिरका मिला कर पिए। इससे जलन, गैस और पेटदर्द से राहत मिलती हैं।

○ पानी में अजवाइन और अदरक डाल कर उबालिए। ठंड करके थोड़ी देर में ही पी लीजिये। इसके अलावा पानी में सौंफ और अजवाइन उबाल कर ठंडा करके पीने से भी लाभ मिलत हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...