पैडीक्योर कितनी प्रकार का होता हैं और इसके क्या फायदे हैं?

पेडीक्योर कितनी तरह का होता है?

पैडीक्योर पैरों की सुंदरता और स्वास्थय बढ़ाने के लिए एक बढ़िया तकनीक हैं। पैडीक्योर एक प्रोफेशनल पैडीक्योर स्पेशलिस्ट के द्वारा स्पा और सैलून में किया जाता है। पैडीक्योर को करवाने से पैरों की खूबसूरती में चार चाँद लग जाते हैं, साथ ही पैरों का ब्लड सर्कुलेशन अच्छा बनता है। आइये जानते है की पैडीक्योर कितनी प्रकार के होते हैं? इसे करवाने से क्या फायदे हैं?

यह एक ब्यूटी ट्रीटमेंट है, जिसके जरिए पैरों को सुंदर बनाया जाता हैं। साथ ही इसमें इस्तेमाल होने वाला सुंगंधित ऑयल से आपका मूड एकदम फ्रेश हो जाता हैं। यह पैरों की पिंडलियों और एड़ियों के मसल्स को रिलैक्स करता है।

आपको जानकर आश्चर्य होगा की पैडीक्योर सिर्फ एक ही किस्म का नहीं होता हैं। बल्कि यह कई तरह का होता हैं। आइये जानते है की पैडीक्योर कितनी प्रकार के होते हैं और यह कैसे किया जाता हैं और इसके लाभ क्या है?

पैडीक्योर के प्रकार और ऐसे किया जाता है :-

■ फ्रेंच पैडीक्योर

फ्रेंच पैडीक्योर का मतलब आपके नाखूनों के पोलिश करने के तरीके से होता है। इस तरह के पैडीक्योर में नाखूनों में विभिन्न प्रकार से पोलिश की जाती है। इसके साथ ही नार्मल पैडीक्योर के स्टेप्स को भी फॉलो किया जाता हैं। पैरों को सूखाने और स्क्रब करने के बाद नाखूनों को शेप दिया जाता हैं। फिर उसके बाद स्पेशलिस्ट आपके पैरों के नाखूनों को फ्रेंच मैनीक्योर के अंदाज़ में पॉलिश करता है।

अगर आप इस तकनीक को नहीं जानते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दे की, फ्रेंच मैनीक्योर में नाखूनों पर रंगहीन या हल्के गुलाबी रंग का बेस लगाया जाता है। फिर उस पर वाइट टिप लगाई जाती हैं। यह स्टाइल खास करके लेडीज में ज्यादा पोपुलर हैं।

■ सामान्य पैडीक्योर

रेगुलर पैडीक्योर पैरों और नाखूनों की केयर के लिए करवाया जाता है। इसमें एक्सपर्ट्स आपके पैरों को गुनगुने पानी में डुबो कर उसे प्युमाइस स्टोन से रगड़ते है। इससे आपके पैरों और नाखूनों में जमा गंदगी और धूल-मिट्टी बाहर निकल जाती है। इससे पैरों की डेड स्किन भी बाहर निकल जाती हैं। पैरों के कोमल और साफ हो जाने के बाद नाखूनों को सही शेप दिया जाता हैं। इसके बाद पैरों में मॉइस्चराइजर क्रीम लगायी जाती हैं। इसके बाद आप अपनी मनपसंद नेल पॉलिश लगवाइए।

■ स्टोन पैडीक्योर

खास किस्म के स्टोन जिनमे हीट होता हैं। उनका इस्तेमाल खुशबूदार तेल की कोई एक किस्म को चुनने के बाद मसाज करने के लिए किया जाता है।

■ स्पा पैडीक्योर

स्पा पैडीक्योर काफी हद तक रेगुलर पैडीक्योर से मिलता-जुलता हैं। परन्तु इसमें आपकी स्किन को एक स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जाता हैं। इस विशेष ट्रीटमेंट में नोर्मली पेराफिन वैक्स का इस्तेमाल किया जाता है। इसके साथ ही Salt Scrub & Deep Cleansing Mask आदि से भी पैरों की खूबसूरती को बढ़ाया जाता है। स्पा पैडीक्योर को करवाने से पैरों की गंदगी साफ हो जाती हैं और पोर भी अच्छी तरह से क्लीन हो जाते हैं।

■ पैराफिन पेडिक्योर

पैरों को पैराफिन मोम से मॉइस्चराइज किया जाता हैं। इससे स्किन की एजिंग को कम किया जाता हैं। यह एक सामान्य पैडीक्योर ही है, बस इसमें पैराफिन मोम का ट्रीटमेंट का प्रयोग होता हैं।

■ मिनी पैडीक्योर

अगर आपके पास पैडीक्योर करवाने के लिए टाइम नहीं हैं तो आप मिनी पैडीक्योर भी करवा सकते हैं। इस ट्रीटमेंट में स्पेशलिस्ट आपके पैरों को जल्दी सूखा कर आपके नाखूनों को शेप दे देता हैं। यह कम खर्चे में पैरों को खूबसूरत बनाने की विधि हैं। जिन लोगो के पैरों का रख-रखाव अच्छा हैं, वह लोग इसे ट्रीटमेंट को चूज़ कर सकते हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

केसर से होते हैं यह बेमिसाल फायदे
कान छिदवाने के फायदे.
बोटॉक्स करवाने की सोच रही हैं तो जरूर जाने यह बातें
दांतों को स्वस्थ्य रखने के लिए भूल कर भी न करे यह गलतियाँ.
भृंगराज के फायदे और इसके उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय के बारे में जानिए.
वाइटहेड्स को दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।
बालों को मजबूत, घना, काला और लंबा बनाने के लिए प्याज के रस के घरेलु नुस्खे और उपाय।
इन कारणों से होते हैं मुहांसे, इनसे बच कर रहे।
बालों को हेल्दी बनाने में मदद करते हैं यह जरूरी विटामिन।
होली को सुरक्षित ढंग से मनाने की टिप्स जानिए।
नींबू के छिलके के उपयोगी घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे।
नाभि की सफाई करने के उपाय जानिए।