फालसा खाने के फायदे जानिए।

फालसा खाने के फायदे , Benefits of Falsa fruit in Hindi.

गर्मियों के मौसम में आपको गर्मी से राहत दिलाने वाला एक मजेदार फल मिल जायेगा, जिसका नाम हैं फालसा। फालसा खास करके गंगा के मैदानी इलाकों और पूर्वी बंगाल को छोड़ कर उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब और आंध्रप्रदेश में होता हैं। यह फल छोटा गोल मटोल, गहरे बैंगनी रंग का नर्म और रसीला होता हैं। इसका आकार पीपल के फल के जितना होता हैं, लेकिन यह थोड़ा बहुत बेर की तरह दिखाई देता हैं, लेकिन बेर से यह थोड़ा छोटा होता हैं। आज के लेख में फालसा खाने के फायदे जानेंगे।

फालसा बहुत ही टेस्टी फल हैं, यह रस से भरा हुआ हैं और इसका स्वाद खट्टा-मीठा होता हैं। गर्मियों के दिनों में इसका शर्बत बना कर भी पिया जाता हैं। गर्मियों के दिनों में इसके अनोखे स्वाद की वजह से लोग इसे बड़े ही चाव के साथ खाते हैं। फालसे की तासीर ठंडी होती हैं, इसलिए यह शरीर को ठंडा रखता हैं, जिससे गर्मी से निजात मिलती हैं। पके हुए फालसे के फल पर नमक, काली मिर्च और चाट मसाला मिला कर लोग खाते हैं। इसका शरबत भी लोगो में काफी ज्यादा लोकप्रिय हैं। आइये जानते हैं फालसा खाने से सेहत को क्या-क्या लाभ होते हैं?

फालसा खाने के बेहतरीन फायदे :-

1. न्यूट्रीएंट्स से भरपूर होता हैं फालसा

फालसा छोटा होने के बावजूद पोषण से भरा हुआ फल हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें पोटैशियम, आयरन, सोडियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए और विटामिन सी जैसे तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा फालसा में प्रोलीन, लायसीन, ग्लूटेरीक एसिड, शुगर, कैरोटीन जैसे मिनरल्स और विटामिन्स भी होते हैं। फालसा फल का 69% हिस्सा ही खाने लायक हैं, बाकि हिस्से में इसकी गुठली होती हैं। गर्मियों के दिनों में शरीर में कई सारी बीमारियाँ होने का ख़तरा रहता हैं, लेकिन फालसे में पाए जाने वाले न्यूट्रीएंट्स शरीर को बिमारियों से बचाए रखते है।

2. लू लगने से बचाता हैं

गर्मियों के दिनों में लू लगने की समस्या ज्यादा होती हैं। लेकिन फालसा फल को खाने से लू लगने से बचने में मदद मिलती हैं। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, पोटेशियम, सोडियम, आयरन जैसे मिनरल्स गर्मी के मौसम में लू लगने से बचाते हैं। साथ ही गर्मी की वजह से होने वाले बुखार को दूर करने का काम करते हैं। फालसे और शहतूत का शरबत पीने से भी लू लगने से बचा जा सकता हैं। फालसे के साथ सेंधा नमक मिला कर खाना चाहिए, जिससे गर्मियों के दिनों में लू लगने की समस्या से छुटकारा मिलता हैं।

3. खून की कमी दूर करे

फालसे में विटामिन सी ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं जो आयरन को सोखने में मदद करता हैं। इससे खून की सफाई हो जाती हैं और खून साफ बनता हैं। शरीर में अगर खून की कमी यानि एनीमिया की बीमारी हो गयी हैं तो फालसे को जरूर खाए, इससे शरीर में खून की कमी दूर होती हैं। इस जादुई फल को खाने से शरीर में खून बढ़ता हैं। यह शरीर के हीमोग्लोबिन लेवल को बढ़ाता हैं, जिससे शरीर में हुई खून की कमी दूर हो जाती हैं।

4. पेट के लिए होता हैं अच्छा

फालसे का जूस आसानी से हजम हो जाने वाला और गर्मी और प्यास से राहत दिलाने वाला शीतल हर्बल टॉनिक हैं। यह पित्ताशय और लीवर से सम्बंधित समस्याओं को दूर करता हैं। फालसे में थोड़ा कसैलापन भी होता हैं जो फालतू एसिड को कम करके पाचन से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलाता हैं। फालसे का सेवन करने से पाचन क्रिया दुरुस्त बनती हैं। फालसा फल खाने से अपच की समस्या दूर हो जाती हैं और भूख भी खुल कर लगने लगती हैं। फालसे को खाने से गैस और एसिडिटी की समस्या से काफी ज्यादा आराम मिलता हैं।

5. पेट दर्द से छुटकारा दिलाये

पेट दर्द की समस्या हमेशा बनी रहती हैं तो फालसा आपके लिए बेहतरीन उपचार साबित हो सकता हैं। पेट दर्द को दूर करने के लिए सेंकी हुई 3 ग्राम अजवाइन में 25 से 30 ग्राम फालसे का रस मिला कर थोड़ा सा गर्म करके पीना चाहिए। इससे पेट दर्द गायब हो जाता हैं। इसके अलावा आप चाहे तो फालसे का रस वैसे भी पी सकते हैं, इससे भी पेट दर्द से आराम पाने में मदद मिलती हैं।

6. सांस से सम्बंधित समस्याओं में फायदेमंद

फालसे में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता हैं जो खांसी-जुकाम और गले के दर्द जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में कारगर हैं। इसकी तासीर ठंडी होने के बावजूद इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी अस्थमा और ब्रोंकाइटिस के मरीजों को फायदा पहुचाता हैं। अस्थमा और ब्रोंकाइटिस के मरीजों को फालसा खाने से सांस लेने में होने वाली परेशानी से आराम मिलता हैं। यह सांस से जुड़ी हुई समस्याओं, हिचकी, कफदोष आदि को भी ठीक कर सकता हैं। हिचकी, कफ या सांस से समस्याओं को दूर करने के लिए फालसे के रस को गर्म करके थोड़ा सा अदरक का रस और सेंधा नमक मिला कर पीना चाहिए, इससे इन समस्याओं में तुरंत लाभ होता हैं।

7. ब्रेन के लिए लाभकारी

फालसा खाने से या फिर इसका रस पीने से कमजोर याददाश्त की समस्या दूर होने लगती हैं। यह ब्रेन मेमोरी को तेज़ बनाता हैं। फालसा में विटामिन सी और आयरन होते हैं जो ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाते हैं, जिससे ब्रेन में खून की सप्लाई अच्छी तरह से होती हैं। जिससे दिमाग से जुड़ी कई सारी समस्याएं अपने आप खत्म होने लगती हैं। ज्यादा फायदा प्राप्त करने के लिए सुबह खाली पेट फालसे का जूस पीने की सलाह दी जाती हैं। यह दिमाग की गर्मी और खुश्की को भी दूर करता हैं। सुबह-शाम फालसे का रस पीने से गर्मी की वजह से होने वाले सिरदर्द को दूर करने में मदद मिलती हैं। इसके अलावा अगर आपको चिडचिडापन महसूस हो रहा हैं या फिर घबराहट लग रही हैं तो फालसा फल जरूर खाए और इन समस्याओं से मुक्ति पाए।

8. कोलेस्ट्रॉल लेवल और ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल में रखे

यह एक ऐसा फल हैं जो विटामिन सी और मिनरल्स से भरा हुआ हैं। फालसे को खाने से ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल लेवल नियन्त्रण में रहते हैं। सुबह-शाम लगातार एक महीने तक इसका सेवन करने से ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल लेवल को कण्ट्रोल करने में आसानी होती हैं। जिसके कारण दिल की बीमारियाँ होने का ख़तरा काफी ज्यादा कम हो जाता हैं।

9. स्किन प्रॉब्लम्स को दूर करे

गर्मियों के दिनों में फोड़े-फुंसी ज्यादा निकलने लगते है। जिन्हें दूर करने के लिए फालसे के पेड़ की पत्तियां और तना कारगर होते हैं। अगर गर्मी की वजह से फोड़े-फुंसी निकल गये है, या फिर स्किन में जलन या छिलना, एक्जिमा, चकत्ते पड़ने की समस्या हैं तो फालसे की पत्तियों को रातभर पानी में भिगो कर इसे पीस कर स्किन प्रॉब्लम वाली जगह पर लगाये। इससे स्किन में होने वाली यह सभी समस्याएं दूर होने लगती हैं। फालसे की पत्तियों को पीस कर स्किन पर लगाने से गीली खुजली से भी आराम मिलता है।

10. कैंसर से बचाता हैं

एक रिसर्च से पता चला हैं की फालसे में कैंसर से लड़ने वाले गुण होते हैं। यह रेडियोथरेपी की तरह काम कर सकता हैं। इसके सेवन से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचने में मदद मिलती हैं।

फालसा के अन्य फायदे :-

■ यह एंटीबायोटिक की तरह भी काम करता हैं। इसके तने की छाल का अर्क बुखार को कम कर सकता हैं। साथ ही इसके तने का रस दस्त की समस्या का भी इलाज कर सकता हैं।

■ फालसे को नियमित रूप से खाने से पेशाब में होने वाली जलन दूर हो जाती हैं। यह मूत्र से संबंधित विकारों से छुटकारा दिलाता हैं।

■ फालसे का शरबत बना कर पीने से शरीर की जलन समाप्त हो जाती हैं।

■ फालसा का सेवन करने से मिचली, उल्टी और घबराहट जैसी परेशानियों से निजात मिलती हैं। अगर धूप में रहने से एलर्जी, लालिमा, जलन और कालापन होने की समस्या हैं तो यह उससे भी छुटकारा दिलाता हैं।

■ ज्यादा प्यास लगने की समस्या हैं तो फालसे के रस में चीनी या मिश्री मिला कर पीने से बहुत जल्दी फायदा होता हैं।

■ फालसे की चटनी बना कर खाने से खाना जल्दी हजम हो जाता हैं।

■ फालसे के बीजों (गुठली) से तेल निकाला जाता हैं, जिससे प्रजनन से सम्बंधित समस्याओं के इलाज में इस्तेमाल किया जाता हैं।

■ फालसे की जड़ की छाल का इस्तेमाल गठिया रोग के उपचार में किया जाता हैं।

सावधानी :- आप फालसे को कच्चा भी खा सकते हैं या फिर इसका रस निकाल कर पी सकते हैं। चाहे तो आप इसका शरबत भी बना कर पी सकते हैं। लेकिन इसका सेवन सिमित मात्रा में ही करना चाहिए। क्योंकि ज्यादा फालसे का सेवन करने से इसका नुकसान यह हैं की इससे आपको भूख लगना बंद हो जाता हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

गर्मी के मौसम में छोटे बच्चों की देखभाल करने के तरीके जानिए।
राजमा खाने के फायदे.
देसी घी खाने के फायदे.
जानिए विटामिन के फायदे, कमी के नुकसान और किसमें पाया जाता हैं.
बार बार थकान होने के यह हैं कारण।
विटामिन B12 के बारे में पूरी जानकारी जरूर पढ़े।
बर्फ के घरेलु नुस्खे और उपाय और इसके फायदे।
साइनस की समस्या को दूर करने घरेलु नुस्खे और उपाय।
अचार खाने के फायदे और नुकसान जरूर पढ़े यह लेख।
अगर आप चाइनीज़ फूड के दीवाने हैं तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत हैं।
संतरे और नींबू के अलावा इन चीजों में भी विटामिन सी ज्यादा मात्रा में होता हैं।
जानिए कोलेस्ट्रॉल क्या हमेशा शरीर के लिए बुरा होता हैं?