बाथरूम के लिए जरूरी वास्तु टिप्स, जिससे घर में आती हैं सुख-शांति।

बाथरूम के लिए जरूरी वास्तु टिप्स, जिससे घर में आती हैं सुख-शांति।

सभी घरों में बाथरूम की जरूरत होती ही हैं। घर की सुख-शान्ति में बाथरूम का रख-रखाव रखना बहुत ही जरूरी हैं। सबसे पहले हम अपने दिन की दिनचर्या बाथरूम में जाकर ही शुरू करते हैं। आज के लेख में हम बाथरूम से जुड़े वास्तु टिप्स के बारे में बताएँगे, वास्तु शास्त्र के अनुसार बाथरूम में क्या नहीं करना चाहिए? वास्तु के अनुसार बाथरूम में क्या लगाना चाहिए? इन सभी बातों के बारे में जानते हैं। इन टिप्स को अपना कर आप अपने घर में सुख-शांति, धन संपति में वृद्धि कर सकते हैं। Vastu Tips for Bathroom in Hindi. Bathroom ke liye Vastu shastra ke upay. अगर आप इन वास्तु उपाय को अपने बाथरूम अजमाते हैं तो आपके घर की सभी नेगेटिव एनर्जी पॉजिटिव एनर्जी में बदल जाती हैं।

बाथरूम के लिए जरूरी वास्तु टिप्स :-

• जिस प्रकार अगर घर की सफाई नहीं की जाये तो वहा पर पॉजिटिव एनर्जी नहीं आती हैं। उसी प्रकार बाथरूम की सफाई न करने पर भी घर में नेगेटिव एनर्जी बनी रहती हैं। इसलिए घर के बाथरूम को हमेशा साफ़ रखना चाहिए, इससे परिवार के सदस्यों पर भगवान की कृपा बनी रहती हैं।

• बाथरूम में हमेशा एक नीले रंग की बाल्टी जरूर रखे। इस नीले रंग की बाल्टी को हमेशा पानी भर कर रखे। नीले रंग की बाल्टी को सौभाग्य का प्रतीक माना जाता हैं। इसे बाथरूम में पानी भर कर रखने से घर में खुशहाली और उन्नति आती हैं।

• वास्तु शास्त्र के अनुसार बाथरूम के दरवाज़े के सामने कभी भी शीशा नहीं लगवाना चाहिए। इससे घर की नेगेटिव एनर्जी शीशे से टकरा कर घर में वापिस आ जाती हैं।

• बाथरूम में लगने वाले गीज़र और दुसरे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को हमेशा दक्षिण-पूर्व की दिशा में ही लगाना चाहिए।

• बाथरूम का दरवाज़ा हमेशा बंद करके रखना चाहिए। अगर दरवाज़ा खुला भी हो तो उसपर हमेशा पर्दा लगा कर रखना चाहिए।

• बाथरूम के दीवारों और फर्श पर हमेशा हल्के रंग की टाइल्स को ही लगवाना चाहिए।

• बाथरूम के नल को हमेशा सही रखना चाहिए। अगर आपके बाथरूम में नल से पानी टपकता रहता हैं तो इसे जल्दी से ठीक करवाए। क्योंकि बाथरूम से लगातार टपकते नल से घर में नकारात्मक ऊर्जा आती हैं और आपको आर्थिक नुकसान का सामना भी करना पड़ता हैं।

• घर के बाथरूम के किसी कोने में नमक की एक डली जरूर रखे। नमक की यह डली घर की सभी नेगेटिव एनर्जी को सोख लेती हैं और घर का माहौल खुशनुमा हो जाता हैं।

• हमेशा याद रखे की बाथरूम और किचन में कभी भी पानी की बर्बादी न करे। पानी भरने के बाद बाल्टी से बहता हुआ पानी या टंकी से ओवरफ्लो होने के बाद गिरता हुआ पानी आपके परिवार के सदस्यों की सेहत पर बहुत ही नेगेटिव असर डालता हैं और इसके अलावा आपको रूपए-पैसो की परेशानी का भी सामना करना पड़ता हैं। वास्तु के अनुसार अगर किसी भी चीज़ में पानी भरने में के बाद पानी ओवरफ्लो होकर गिरता रहे तो धन की हानि होती हैं।

• बाथरूम का फर्श घर के कमरों के फर्श से हमेशा नीचा होना चाहिए, क्योंकि इससे बाथरूम की नेगेटिव एनर्जी घर में दाखिल नहीं हो पाएगी।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

आखिर मांगलिक कार्यों में केले के पेड़ की पूजा क्यों की जाती हैं?
सांप को दूध क्यों पिलाते हैं? जानिए इससे जुड़ा हुआ रहस्य।
उपवास (व्रत) करने के फायदे जानिए
सुन्दरकाण्ड का नाम सुन्दरकाण्ड ही क्यों पड़ा?
जानिए रामायण के ऐसे 4 पात्र जो महाभारत में भी मिलते हैं?
जीवित्पुत्रिका व्रत (जिउतिया) की कथा और इसे कैसे मनाया जाता हैं।
गलत अर्थ न निकाले इस "ढोल गंवार क्षुद्र पशु नारी, सकल ताड़ना के अधिकारी" दोहे को!
मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी क्यों बनाई और चढ़ाई जाती हैं?
इन पौधों को घर में लगाने से मिलती हैं बरकत और खुशहाली।
आत्मविश्वास (self-confidence) बढ़ाने के कारगर ज्योतिष उपाय।
मंगलवार के दिन यह उपाय करे, जीवन में आएगी खुशहाली।
जानिए शास्त्रों के अनुसार किसी तिथि को कैसा भोजन करना चाहिए।