बारिश के मौसम में bike को सही रखने के टिप्स.

बारिश के मौसम में मोटरसाइकिल चलाने के टिप्स.

बारिश के दिनों में मोटरसाइकिल का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती हैं। क्योंकि बारिश के दिनों में सड़कों की हालत बहुत ज्यादा खराब हो जाती हैं, जिसके चलते बाइक को सही बनाये रखने के लिए कुछ जरूरी टिप्स को फॉलो करने की जरूरत पड़ती हैं। वैसे तो बरसात का मौसम गर्मी से निजात दिला देता हैं और यह काफी सुहाना मौसम होता हैं, लेकिन यह अपने साथ कुछ परेशानियां भी लेकर आता हैं।

इसलिए आज हम आपके लिए लेकर आये हैं कुछ ऐसे टिप्स जिन्हें अजमाने से बाइक को बारिश के दिनों में फिट बनाये रखने में मदद मिलती हैं। Motorcycle caring tips for rainy season in Hindi. बरसात के मौसम में बाइक की देखभाल करने के टिप्स.

बरसात के दिनों में मोटरसाइकिल से सम्बंधित कुछ जरूरी टिप्स :-

1. बाइक की सुरक्षा का ख्याल रखा काफी ज्यादा जरूरी हैं। इसलिए मौसम चाहे गर्मियों का हो या फिर बरसात का मोटरसाइकिल की सर्विसिंग के साथ कोई लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। सुरक्षित बाइक चलाने के लिए समय-समय पर बाइक की सर्विसिंग करवाते रहना चाहिए। न सिर्फ चेन बल्कि बाइक के सभी मूवमेंट करने वाले हिस्सों पर लुब्रिकेंट डलवाना चाहिए। जैसे की फिट रहने के लिए अच्छी सेहत होना जरूरी हैं, उसी तरह बाइक की अच्छी सेहत के लिए समय-समय पर सर्विसिंग करवाते रहना जरूरी हैं।

2. बारिश के दिनों में सड़के गीली हो जाती हैं, ऐसे में इन दिनों में तेज़ स्पीड में बाइक नहीं चलानी चाहिए। क्योंकि इससे आपके बाइक का पहिया फिसल सकता हैं और आपको चोट लग सकती हैं। इसलिए सावधानी इसमें ही हैं की बरसात के दिनों में मोटरसाइकिल धीमी रफ्तार भी चलाये।

3. बरसात के वक़्त बाइक की फिटनेस का ध्यान रहना जरूरी हैं। रोड पर बाइक चलाने और बैलेंस को बनाये रखने के लिए पहिये ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मानसून की शुरुवात होने से पहले ही बाइक के टायर की जांच अच्छी तरह से करवा ले। बाइक का टायर घिसा हुआ नहीं होना चाहिए। अगर मोटरसाइकिल के टायर घीसे हुए होंगे तो यह चिकने होंगे, जिसकी वजह से गीली सड़कों को यह आसानी के साथ फिसल जायेंगे। यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है, इसलिए मोटरसाइकिल के टायर्स का सही ध्यान रखे और जरूरी हो तो इन्हें बदल भी दे।

4. बरसात के मौसम में हमेशा बाइक पर जाने से पहले अपने साथ एक एक्स्ट्रा जोड़ी कपड़े रख ले। क्योंकि अगर अचानक कंही बारिश आ गयी और आप भीग गये, और आपको किसी ऑफिस या कॉलेज में जाना हैं तो आप आसानी के साथ गीले कपड़ों को बदल कर सूखे और साफ कपड़े पहन सकते हैं। जिससे आप बीमार नहीं पड़ते हैं। फिर आप गीले कपड़ों को प्लास्टिक की थैली में अच्छी तरह से बाँध कर रख ले।

5. बारिश के दिनों में बाइक चलाते समय कपड़ों को भीगने से बचाने के लिए आप चाहे तो वाटरप्रूफ जैकेट और पैंट भी खरीद सकते हैं। जिससे आपके कपड़े भीगेंगे नहीं। साथ ही मार्किट से आप शू कवर भी खरीद सकते हैं, जिससे जूते गीले नहीं होंगे।

6. मोटरसाइकिल के पहिये ठीक होने के साथ, बाइक की ब्रेक भी सही होना जरूरी हैं। ब्रेक पैड की मोटाई देखे, अगर वह ज्यादा घिस गये हैं तो ब्रेक लगाने में मुश्किल आती हैं। अगर बरसात के दिनों में यह भीग जाये तो यह भी और भी ज्यादा खराब हो जाते हैं। ब्रेक फ्लूड की भी जांच करवाए और जरूरी हो तो इन्हें चेंज भी करवाए। ब्रेक फ्लूड लम्बे वक़्त तक न बदलवाने से यह ज्यादा चिकने हो जाते हैं और इससे ब्रेक फेल हो जाता हैं। हर 2 साल के अंदर ब्रेक फलूड चेंज करवाने की सलाह दी जाती हैं।

7. कई बार बरसात का पानी स्पार्क प्लग में चला जाता हैं या फिर इग्निशन कॉइल को गीला बना देता हैं। जिससे बाइक को चलाने में दिक्कत होती हैं। आज सर्विसिंग करने वाले मकैनिक से सलाह लेकर प्लग्स और कॉइल में अच्छा लुब्रीकेंट डलवाए।

8. जब भी सड़क पानी से भरी हुई हो तो बाइक हमेशा पहले गियर में ही चलानी चाहिए और हमेशा धीमी ही चलानी चाहिए, न की तेज़।

9. अगर आप बाइक चलाते समय सामान को बारिश से भीगने से बचाना चाहते हैं तो इसके तैयारी आप पहले से ही कर ले। आप अपने साथ हमेशा वाटरप्रूफ पाउच साथ रखे। प्लास्टिक के थैले भी आपकी मदद कर सकते हैं। जरूरत पड़ने पर आप प्लास्टिक बैग्स में मोबाइल, पर्स और ऐसे सामानों को रख सकते हैं, जो पानी में भीगने से खराब हो जाती हैं। ऐसे में उन चीजों को पाउच में रखने से उन्हें सुरक्षित रखने में आसानी होती हैं।

10. सामान को बारिश में भीगने से बचाने के उपाय तो बताया ही जा चूका हैं। अगर आप अपने बैग और लैपटॉप को भी भीगने से बचाना चाहते हैं तो बैग के साइज़ के मुताबिक बड़ी प्लास्टिक की थैली साथ में रखे। बारिश आने पर आप आसानी के साथ अपने बैग के चारों ओर इसे अच्छी तरह से बाँध सकते हैं। इसके उपर आप डबल प्लास्टिक बैग को लपेटे, जिससे ज़रा सा भी बारिश का पानी अंदर नहीं जायेगा और आपका बैग बारिश में भिजेगा नहीं। यह तो सस्ता जुगाड़ था, लेकिन आप चाहे तो मार्किट में वाटरप्रूफ पाउच भी खरीद सकते हैं। इनकी कीमत भी ज्यादा नहीं होती हैं और इनका प्रयोग भी आसानी के साथ किया जा सकता हैं।

11. जैसा की आपको पता ही हैं की गर्मियों के दिनों में बाइक के पहियों में एयर प्रेशर थोड़ा कम ही रखना चाहिए। इसी तरह बरसात के मौसम में भी पहियों में वायु का प्रेशर थोड़ा कम ही रखने की सलाह दी जाती हैं। इससे पहियों की ग्रिप सड़क पर बेहतर बनी रहती हैं।

12. फ्रंट फेंडर के निचे रबर मड लगवाना चाहिए। आप चाहे तो इसे डाउनट्यूब के पास, इंजन के नज़दीक भी लगवा सकते हैं। इसे फ्रंट फेंडर और इंजन के बीच में होना चाहिए। हालांकि इससे बाइक की लुक थोड़ी खराब हो सकती हैं, लेकिन यह आगे वाले पहिये से पानी को आने से रोकता हैं। यह बाइक के इंजन में धुल-मिट्टी जाने से भी रोकता हैं। जब बारिश का मौसम समाप्त हो जाये तो आप इसे निकाल कर रख सकते हैं।




अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

यहां पेड़ पर खिलते हैं न्यूड महिलाओं वाले फूल
मक्खन खाने के फायदे जानिए.
SMS का इतिहास क्या हैं? इसकी खोज किसने की?
कंप्यूटर पर काम करते समय यह 10 गलतियाँ सेहत के लिए होती हैं खतरनाक।
Android फ़ोन में डाटा डिलीट किये बिना वायरस को हटाने की ट्रिक.
पेट की अच्छी सेहत के लिए कुछ जरूरी टिप्स.
हल्दी के घरेलु नुस्खे और उपाय और उससे होने वाले फायदे.
पेट के कीड़े ख़त्म करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।
आखों में मिर्च पड़ जाये तो जलन से बचने के लिए क्या करना चाहिए?
जानिए नवरात्री के नौ दिनों में माँ दुर्गा के किन स्वरूपों की उपासना की जाती हैं।
कोहनी का कालापन दूर करने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
ज्योतिष के अनुसार जानिए कबूतर शुभ हैं या अशुभ?
ज्यादा देर तक सोने से सेहत को होते हैं यह नुकसान।
बालों को चमकदार बनाने के उपयोगी घरेलु नुस्खे, उपाय और तरीके जानिए।
कोल्डड्रिंक न पीने से शरीर को होते हैं यह फायदे।
जानिए बिना मोज़े का जूता पहनने और बहुत ज्यादा टाइट मोजा पहनने के नुकसान।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *