बिना तकिये के सोने के फायदे जानते हैं आप?

बिना तकिया लगा कर सोने के फायदे

ज्यादातर भारतीय लोग सिर के निचे तकिया लगा कर सोना पसंद करते हैं। वैसे तो सिर के निचे तकिया लगा कर सोने से आपको काफी ज्यादा आराम महसूस होता हैं। लेकिन कभी-कभी गलत तरीके से तकिया लगा कर सोने से गर्दन में दर्द भी होने लगता हैं। वैसे तो तकिया लगा कर सोना अच्छी बात है, लेकिन हाल में हुई एक रिसर्च यह बताती हैं की बिना तकिये के सोने के भी कई सारे लाभ हैं। आइये जानते हैं बिना तकिये के सोने से शरीर को क्या-क्या फायदे होते हैं।

जानकारों की माने तो सिरहाने तकिया न लगा कर सोना काफी ज्यादा लाभकारी हैं। ऐसा करने से आपको ऐसी नींद आती हैं, जैसे की छोटे बच्चों को आती हैं, क्योंकि आपकी बॉडी नेचुरल पोजीशन में होती हैं। हालाकिं जानकर यह भी मानते हैं की बिना तकिये के जमीन पर सोने से कई तरह की परेशानियाँ भी होती हैं। इसलिए जब भी बिना तकिये के सोने जा रहे हैं तो सोने के लिए गद्दे का प्रयोग जरूर करे। इससे आपका शरीर सही पोजीशन में रहेगा। ऐसी स्तिथि में जब आप बिना तकिये के चित होकर सोते हैं तो पीठ और गर्दन में दर्द नहीं होता हैं। आइये जानते हैं बिना तकिये के सोने के फायदे क्या हैं?

बिना तकिया लगाये सोने के फायदे :-

■ टेंशन दूर करे

अगर आप सिरहाने के निचे तकिया नहीं लगाकर सोते हैं तो आपको इससे अच्छी नींद आती हैं। जिससे आपकी दिनभर की सारी थकान मिट जाती हैं। साथ ही टेंशन भी दूर हो जाती हैं।

■ पिंपल्स दूर करे

बिना तकिये के सोने से चेहरे पर पिंपल्स होने का ख़तरा काफी कम हो जाता हैं। ऐसा इसलिए होता हैं क्योंकि जब हम सोते हैं तो हमारा चेहरे तकिये पर ही रहता हैं, जिसमें धुल होने पर पिंपल्स की प्रॉब्लम होती हैं।

■ अनिंद्रा से छुटकारा दिलाये

बिना तकिया लगा कर सोने से अनिद्रा की समस्या से मुक्ति मिलती हैं। इससे आप अच्छी नींद लेते हैं और आप काफी ज्यादा फ्रेश महसूस करते हैं।

■ गर्दन और पीठ दर्द की समस्या नहीं होती

जब आप तकिये का प्रयोग करते हैं तो रीढ़ की हड्डी की पोजीशन चेंज हो जाती हैं। जिससे आपको पीठ में दर्द होने लगता हैं। इसलिए बिना तकिये के सोने पर आपकी गर्दन स्पाइन की सीधी दिशा में रहती हैं। जिससे आपको पीठ दर्द और गर्दन में दर्द नहीं होता हैं।

कई बार आपने भी गौर किया होगा की तकिये का इस्तेमाल करने से गर्दन में दर्द होने लगता हैं। खास करके सुबह के समय जब आप सो कर उठते हैं तो यह गर्दन में ज्यादा दर्द होने लगता हैं। ऐसा इसलिए हैं क्योंकि तकिये को लगा कर सोने से गर्दन की नर्व कंही दब जाती है, जिससे दर्द होने लगता हैं। दरअसल तकिये का इस्तेमाल न करने से गर्दन स्पाइन के सीध में रहती हैं, जिससे गर्दन पर दबाव नहीं पड़ता हैं। जिससे गर्दन और पीठ में दर्द महसूस नहीं होता हैं।

■ हड्डियाँ एक सीध में रहेंगी

बिना पिल्लो के सोने से हड्डियाँ एक सीध में रहती हैं, जिससे कोई भी दर्द महसूस नहीं होता हैं। जिससे आप काफी तंदरुस्त बने रहते हैं।

■ झुर्रियां नहीं पड़ती

तकिया लगा कर सोने से चेहरे पर झुर्रियां आने लगती है, क्योंकि ऐसा करने से चेहरे पर एक प्रेशर पड़ता हैं। जो लोग बिना तकिये के सोते हैं, उनके चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं।

■ लम्बी उम्र तक जवां बनाये रखे

तकिया लगा कर सोने से आपको अच्छी नींद नहीं आती है, जिससे आप खुद को थका हुआ महसूस करते हैं। जबकि तकिया न लगा कर सोने से आपको अच्छी नींद आती हैं, जिससे आपकी स्किन फ्रेश रहती हैं और आप हमेशा जवां दिखाई देते हैं।

सम्बंधित लेख जिन्हें आपको जरूर पढ़ना चाहिए :- 

1. जमीन पर सोने के फायदे जानकर, आप भी जमीन पर सोने लगेंगे।

2. इस तरह नहीं सोना चाहिए, इससे उम्र कम हो जाती हैं।

3. रात को देर से सोने से सेहत को होते हैं यह नुकसान।

4. बायीं ओर करवट लेकर सोने के फायदे।

5. ज्यादा देर तक सोने से सेहत को होते हैं यह नुकसान।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...