बेल (बिल्व) का रस (जूस/शरबत) पीने के फायदे जानिए।

बेल (बिल्व फल) का जूस (शरबत/रस) पीने के फायदे

बेल का पेड़ भगवान शंकर का सबसे प्रिय पेड़ हैं। क्योंकि इसके पत्ते यानि बेलपत्र को शिवलिंग पर चढ़ाया जाता हैं। बेलपत्र के अर्पण से भगवान शिव जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं। क्या आप बेल के पेड़ से सिर्फ इसके पत्तियों को पूजा करने के लिए जानते हैं। तो आप गलत हैं, क्योंकि बेल का पेड़ तो अपने आप में ही औषधिय गुणों से भरा हुआ हैं। बेल के पेड़ पर बेल फल भी लगता हैं, जिसे English भाषा में Wood Apple के नाम से जाना जाता है। बिल्व फल बाहर से एक दम कठोर होता हैं, लेकिन अंदर से नर्म होता हैं। बेल का फल अंदर से गूदेदार, सॉफ्ट और बीजों से भरा हुआ होता हैं। बिल्व फल में विटामिन सी, बीटा-कैरोटीन, राइबोफ्लेविन, प्रोटीन और थायमिन जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। वैसे तो लोग बेलफल को ऐसे भी खा सकते हैं, लेकिन ज्यादा लोग बिल्व फल का रस बना कर ही पीते हैं। बेल के रस को शरबत भी कहा जाता हैं। तो आइये जानते हैं बेल का रस (जूस) यानी बेल फल का शरबत पीने से सेहत को क्या-क्या फायदे होते हैं।

बेल फल (बिल्व फल) का जूस (रस/शरबत) पीने के फायदे :-

■ बेल का रस नियमित रूप से पीने से ब्रैस्ट कैंसर होने का ख़तरा काफी ज्यादा कम हो जाता हैं।

■ बिल्व फल के जूस में शहद मिला कर लेने से एसिडिटी दूर होती हैं।

■ गर्मी के दिनों में बेल का शर्बत जरूर पीना चाहिए। यह गर्मी से राहत दिलाता हैं और शरीर को ठंडक प्रदान करता हैं।

जरूर पढ़े :- गर्मी से राहत दिलाते हैं यह ड्रिंक्स…

■ गर्मियों के मौसम में लू लगने का ख़तरा ज्यादा होता हैं। ऐसे में बेल का शरबत पीने से लू लगने का ख़तरा कम हो जाता हैं।

■ बेल का जूस दस्त और डायरिया को दूर करने में मददगार हैं। आप चाहे इसमें गुड़ या चीनी मिला कर पी सकते हैं।

■ बेल के जूस में गुनगुना पानी और थोड़ा सा शहद मिला कर पीने से रक्त की सफाई होती हैं और खून साफ़ बनता हैं।

■ बेल के जूस में कुछ बूंदे देसी घी की मिला कर नियमित रूप से पीने से दिल की बीमारियाँ दूर हो जाती हैं।

■ बिल्व के रस का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती हैं।

■ बेल का जूस, मूंह के छालों से भी राहत दिलाता हैं।

■ नयी बनी माँ को बेल का जूस जरूर पीना चाहिए। इससे उनके स्तनों में दूध ज्यादा बनने लगता हैं, जिससे शिशु को लाभ मिलता हैं।

■ बेल का शरबत नियमित रूप से पीने से पेट से गैस, बदहजमी और कब्ज़ आदि प्रॉब्लम से छुटकारा मिलता हैं।

■ बिल्व का रस पीने से बॉडी का कोलेस्ट्रॉल लेवल कण्ट्रोल में रहता हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

डायबिटीज को रोकने के तरीके क्या हैं?
बिमारियों को दूर भगाने और उनसे बचने में मदद करते हैं यह वास्तु उपाय और टिप्स।
पीलिया रोग होने पर क्या करे?
चीकू खाने के 20 बेहतरीन फायदे.
बथुआ खाने के फायदे और इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।
बीटा कैरोटीन के बारे में पूरी जानकारी जरूर पढ़े।
लौकी के जूस में अदरक का जूस मिला कर पीने के फायदे जानिए।
इन सफ़ेद रंग की चीजों को जरूर खाए और स्वस्थ्य रहे।
गेंहू का आटा खाने के फायदे (गेंहू की रोटी खाने के लाभ) जानिए...
हेपेटाइटिस बी से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं यह उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
बिना तकिये के सोने के फायदे जानते हैं आप?
बवासीर से छुटकारा पाने के लिए मूली का इस्तेमाल ऐसे करे।