मखाना खाने के फायदे

मखाना खाने के फायदे

मखाना जिसे ताल मखाना भी कहा जाता हैं, यह व्रत के दिनों में काफी खाया जाता हैं। मखाने को खाने के फायदे बहुत सारे हैं। मखाना न्यूट्रीएंट्स से भरा हुआ ड्राई फ्रूट हैं। मखाना एक जलीय उत्पाद हैं, कहने का मतलब हैं की इसका पौधा पानी में उगता हैं। इसी वजह से इसे ताल मखाना भी कहते हैं। मखाने का सेवन करने से सेहत को ढेर सारे लाभ होते हैं। मखाने के बीज दिल और किडनी के किये काफी फायदेमंद हैं।

मखाने में पाए जाने वाले तत्व प्रति 100 ग्राम में उनकी मात्रा
1.      आसानी से हजम होने वाला प्रोटीन9.7%
2.      नमी12.8%
3.      फैट0.1%
4.      कार्बोहाइड्रेट76%
5.      मिनरल्स 0.5%
6.      फॉस्फोरस0.9%
7.      आयरन1.4 Mg

मखाने के सेवन से महिलाओं में बांझपन की समस्या दूर होती हैं। मखाने खाने से पुरषों को शीघ्रपतन की बीमारी से छुटकारा मिलता हैं। इससे वीर्य की गुणवता में वृद्धि होती हैं और कामेच्छा बढ़ती हैं। आइये जानते हैं मखाना क्यों खाना चाहिए? इसे खाने के फायद क्या हैं? Benefits of Makhana in Hindi.

मखाना खाने के टॉप 10 फायदे :-

1) मखानों को देसी घी में भून कर खाने से दस्त की बीमारी से निजात मिलती हैं।

2) मखानों का सेवन करने से शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं और शरीर हिष्ट-पुष्ट बनता हैं।

3) ताल मखाना विशेष करके यौन कमजोरी से मुक्ति दिलाता हैं। शारीरिक रूप से दुर्बल मनुष्य को इसे जरूर खाना चाहिए। यह शरीर में ताकत प्रदान करता हैं और वीर्य को बढ़ाने में मददगार हैं।

4) गर्भवती स्त्रियों और डिलीवरी के बाद कमजोरी महसूस करने वाली माओं को मखाना जरूर खाना चाहिए।

5) मखानों को दूध में मिला कर सेवन करने से दाह यानि जलन से छुटकारा मिलता हैं।

6) तालमखाना एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरा हुआ मेवा हैं, जिसका सेवन नियमित करने से चेहरे की झुर्रियां ख़त्म होने लगती हैं।

7) मखाने को रेगुलर रूप से खाने से शरीर की कमजोरी समाप्त होती हैं और आप लम्बी उम्र तक स्वस्थ्य बने रहते हैं।

8) इसका सेवन करने से ब्लड प्रेशर भी कण्ट्रोल में रहता हैं। यह शरीर के अंगो को सुन्न होने से भी बचाए रहता हैं। साथ ही इसका सेवन करने का लाभ यह भी की इससे कमर और घुटनों में होने वाले दर्द को कम करने में आसानी होती हैं।

9) मखानों का सेवन करने से शरीर में हो रही जलन शांत होती हैं।

10) मखानों को खाने से शरीर में किसी भी जगह पर हो रहे दर्द से राहत पाने में मदद मिलती हैं। यह कमर दर्द और घुटनों के दर्द से निजात दिलाता हैं।

आप तालमखाने को कच्चा, दूध के साथ या फिर इसकी खीर बना कर खा सकते हैं। तालमखाना भोजन का स्वाद बढ़ाने का काम करता हैं, खास करके मीठे व्यंजनों का टेस्ट बढ़ा देता हैं। साथ ही इससे आपकी सेहत को भी अमूल्य फायदा होता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *