आखिर कुछ लोगो को मच्छर ज्यादा क्यों काटते हैं?

मच्छर ज्यादा क्यों काटते हैं?

मच्छर तो वैसे सभी लोगो को अपना शिकार बनाते हैं। कई लोग यह मानते हैं की मच्छरों को जिन लोगो का खून ज्यादा मीठा लगता हैं, उन लोगो को मच्छर ज्यादा काटते है। अगर आप भी उनकी लोगो में से एक हैं जिन्हें मच्छर ज्यादा काटते हैं तो आपको यह लेख जरूर पढ़ना चाहिए। इसमें हम जानेंगे की आखिर कुछ लोगो को मच्छर ज्यादा क्यों काटते हैं?

हकीकत में मादा मच्छर ही काटती हैं। क्योंकि फीमेल मच्छर को जीवित रहने के लिए आइसोल्युसिन की आवश्यकता पड़ती हैं, जो की आपके खून से उन्हें प्राप्त होता है। फीमेल मच्छर हमेशा आइसोल्युसिन की खोज में लगी रहती हैं, क्योंकि आइसोल्युसिन एमिनो एसिड का निर्माण करने के लिए जरूरी होता है। इसलिए मादा मच्छर ज्यादा काटती है।

यह एमिनो एसिड प्रोटीन को बनाने के लिए जरूरी हैं और इसी प्रोटीन से मादा मच्छर अपने अण्डों को विकसित करती है। लेकिन कई बार यह देखने को मिलता हैं की एक जगह पर कई सारे लोग इक्कठे हो गये हैं, लेकिन मच्छर कुछ लोगो को ही चुन-चुन कर काटते हैं? आखिर ऐसी क्या वजह हैं की मच्छर कुछ लोगो के प्रति ही ज्यादा अट्रेक्ट होते हैं? एक ही जगह पर सभी लोगो को मच्छर क्यों नहीं काटते हैं? आइये इन सभी वजहों के बारे में जानते हैं।

कुछ लोगो को मच्छर ज्यादा इसलिए काटते हैं :-

■ शरीर की गर्मी के कारण

मच्छरों को हमेशा गर्म एनवायरनमेंट पसंद होता हैं, इसलिए जब आप कसरत करते हैं तो आपका शरीर गर्म रहता हैं। उस समय आपको ज्यादा मच्छर काटते है। अध्यन के अनुसार मच्छरों के ज्यादा काटने की वजह ब्लड ग्रुप भी होता हैं। कुछ खास किस्म के ब्लड ग्रुप के लोगो का मच्छर ज्यादा खून पीते हैं।

जरूर पढ़े ;- मच्छरों के काटने से होने वाली बिमारियों के बारे में जानिए।

■ स्किन में उपस्तिथ स्टेरॉयड और कोलेस्ट्राल के कारण

अगर आपकी स्किन में स्टेरॉयड और कोलेस्ट्रॉल ज्यादा मात्रा में होगा तो यह मच्छरों को आपकी तरफ ज्यादा आकर्षित करेगा। इसका मतलब यह नहीं है की मोटे लोगो को ज्यादा मच्छर काटते हैं। लेकिन ऐसे लोगो को मच्छरों के काटने का ख़तरा ज्यादा रहता हैं।

■ बियर मच्छरों को अपनी तरफ करती हैं आकर्षित

साल 2002 में जापान में 13 लोगो पर रिसर्च की गयी। उन लोगो ने एक-एक बोतल बियर पी थी। रिसर्च में यह पाया गया की जिन लोगो ने बियर पी थी, उनकी तरफ मच्छर ज्यादा आकर्षित हुए। रिसर्चर का यह कहना था की बियर के सेवन से बॉडी का टेम्परेचर बढ़ जाता हैं, ज्यादा मात्रा में अल्कोहल पसीने के जरिये बाहर निकलने लगता है, जिससे मच्छर ज्यादा अट्रेक्ट होने लगते है।

जरूर पढ़े :- बियर के 44 रोचक रोचक तथ्य और मज़ेदार जानकारी।

■ कुछ केमिकल्स के कारण

यह आपको जरूर जानना चाहिए की आखिर इंसान के शरीर में ऐसा क्या हैं, जिसकी तरफ मच्छर खिचे चले आते हैं? मनुष्य जब सांस छोड़ता हैं तो कार्बन डाईऑक्साइड गैस निकलती हैं। यह गैस मच्छरों को अँधेरे में आपकी स्थिति को बताती हैं, जिससे मच्छर आपको अँधेरे में ज्यादा काटते हैं।

ऐसे ही अगर पसीने में ज्यादा लैक्टिक एसिड बन रहे हैं तो यह भी मच्छरों को अपनी तरह एट्रेक्ट करते हैं। रिसर्च के मुताबिक मानव शरीर से 500 विभिन्न प्रकार के केमिकल, स्किन के जरिये हवा में निकलते हैं। कुछ खास केमिकल ऐसे होते हैं, जिन्हें मच्छर अपने सिर में लगे हुए एंटीने की मदद से आसानी से पहचान लेते है। और मच्छर उन केमिकल सिग्नल को फॉलो करके आपकी तरफ आ जाते है।

जरूर पढ़े :- मच्छर दूर भगाने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

■ अनुवांशिक कारणों से

जेनेटिक कारणों से भी कुछ लोगो के प्रति मच्छर ज्यादा आकर्षित होते है। क्योंकि मच्छरों को आकर्षित करने का गुण आपके डीएनए में पाया जाता है। वैसे तो इस पर ज्यादा रिसर्च नहीं हुए हैं, लेकिन जितने भी रिसर्च और सर्वे हुए हैं, उनके बेस पर यही कहा जा सकता हैं। की कुछ लोगो के अनुवांशिक (जींस) वजहों से मच्छर ज्यादा काटते है।

■ अधिक मात्रा में कार्बन डाईऑक्साइड और यूरिक एसिड के कारण

फीमेल मच्छर इंसान की स्तिथि को पता लगाने के लिए कई तरह की टेक्नीक का प्रयोग करती है। जब आप ज्यादा मात्रा में कार्बन डाईऑक्साइड छोड़ते हैं तो मच्छर इससे ज्यादा आकर्षित होने लगते हैं। ज्यादातर प्रेग्नेंट महिलाएं मच्छरों के काटने से ज्यादा परेशान रहती हैं, क्योंकि वह सोते समय गहरी सांस लेती है, जिससे सांस लेने के दौरान ज्यादा मात्रा में कार्बन डाइऑक्साइड निकलती हैं और मच्छर गर्भवती महिलाओं को ज्यादा काटते हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...