मूंह खोल कर सोते हैं तो इन तरीके को जरूर अजमाए।

मूंह खोल कर सोने की आदत हैं तो इन तरीकों को अजमाए और अपनी इस बुरी आदत से छुटकारा पाए

अगर आपको मूंह खोल कर सांस लेने की आदत है या फिर आप मूंह खोलकर सोते हैं तो आपकी यह आदत अच्छी नहीं हैं। क्योंकि अगर आप मूंह से सांस लेते हैं, यानी सोते समय मूंह खोल कर सोते हैं तो यह तो देखने में भी अजीब लगता है। दूसरा इससे साँसों की दुर्गन्ध, खर्राटे आना, मूंह का सूखापन और मसूड़ो में सूजन आदि होने की समस्याएं भी हो सकती हैं।

ज्यादातर लोगो की नासिका नली में बाधा होने के कारण मूंह से सांस लेने की समस्या होती हैं। इसलिए इसकी सफाई करवानी चाहिए या फिर इसका इलाज करवाने की जरूरत हैं। जबड़े की मसल्स की कमजोरी और सही सांस लेना भी इसकी वजह हो सकती हैं।

आइये जानते हैं मूंह से सांस लेना बंद करने के लिए क्या करना चाहिए? मतलब की सोते समय मूंह खोल कर सोने से बचने के तरीके और उपाय क्या हैं?

■ भाप का इस्तेमाल करे

भाप भी मूंह से सांस लेने की समस्या से छुटकारा दिला सकती हैं। इसके लिए 2 से 3 कप पानी को गर्म करे और किसी प्याले या चौड़े बर्तन में पानी को भरे। फिर अपना चेहरा भाप के ऊपर ले जाये और सिर को तौलिये से ढक दे। फिर नाक से गहरी सांस ले। ज्यादा फायदा लेने के लिए आप चाहे तो इसमें 3 से 5 बूँद पेपरमिंट ऑयल या निलगिरी के तेल की भी मिला सकते हैं। ताज़ा पेपरमिंट और भी ज्यादा फायदेमंद होता हैं। इससे नाक में हुई रूकावट समाप्त हो जाती हैं। जिससे सोते समय नाक से सांस लेने में होने वाली तखलीफ़ समाप्त हो जाती हैं।

■ पेपरमिंट एसेंशियल ऑयल

अगर आपकी नाक जाम हो गयी हैं और सोते समय सांस लेने में परेशानी हो रही हैं। तो पेपरमिंट ऑयल आपकी सहायता कर सकता हैं। इसमें मेंथोल होता हैं जो की नेचुरल डिकन्जेस्टन्ट हैं। इस खुशबूदार तेल को सूंघना चाहिए। इसके अलावा आप पेपरमिंट ऑयल की 5 बूंदे एक चम्मच नारियल के तेल, अंगूर के बीज के तेल या एवोकाडो ऑयल में मिक्स करे। इस मिश्रण को छाती पर लगा कर रगड़े, यह महंगी मेन्थोल वाली बाम से भी ज्यादा असरदार काम करता हैं। इससे सांस लेने में होने वाली दिक्कत दूर हो जाती हैं। जिसके कारण आप रात को मूंह खोल कर सोने से बच जाते हैं।

जरूर पढ़े :- पुदीने के तेल से होते हैं यह गजब के फायदे।

■ एक्स्ट्रा तकिये का प्रयोग करे

एक एक्स्ट्रा pillow का इस्तेमाल करना भी आसान उपाय हैं। इससे आपका सिर उपर रहेगा और नाक में कोई भी बाधा नहीं आएगी। लेकिन इस बात का ध्यान रखे की एक और तकिया लगा कर सोने से आपकी गर्दन पर कोई प्रेशर न पड़े, वरना इससे आपकी गर्दन में दर्द हो सकता हैं।

■ निलगिरी का तेल

पुदीने के तेल की भाँती निलगिरी भी सोते वक्त मूह से सांस लेने की समस्या से निजात दिला सकती हैं। इसके लिए आप गर्म पानी में निलगिरी का तेल मिला कर नहा सकते हैं। या फिर आप गर्म पानी में निलगिरी के तेल की बूंदे डाल कर भाप से सकते हैं। मेडिकल स्टोर पर निलगिरी की क्रीम भी आसानी के साथ मिल जाती हैं। इसकी खुशबू आपको तरोताज़ा बना देती हैं।

■ साइनस मसाज करे

नाक की रूकावट से तुरंत छुटकारा पाने के लिए साइनस की मसाज करे। यह काफी ज्यादा आसान हैं, इसके लिए ज्यादा कुछ प्रयास करने की भी जरूरत नहीं हैं। अपनी पॉइंटर उँगलियों नाक के दोनों तरफ रखे। आँखों के निचे एक ब्रिज बनाये। निचे की ओर सर्कुलर रूप से मसाज करे। इसे 10 से 15 बार दोहराए। आप नाक के आगे हिस्से और आसपास के हिस्से पर भी मसाज करे। फिर अगर दर्द होने लगे तो यह मसाज बंद कर दे।

जरूर पढ़े ;- साइनस की समस्या को दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

■ अन्य तरीके से सांस ले

अगर कोई भी उपाय काम नहीं कर पा रहा हैं तो आपको नाक से थोड़ी प्रैक्टिस करने की जरूरत हैं। ब्रीदिंग एक्सरसाइज करने से न सिर्फ सही तरह से सांस लेने में मदद मिलती हैं, बल्कि इससे पुरे श्वसन तंत्र को लाभ मिलता हैं।

रीढ़ की हड्डी को सीधा रखे, झुकने से बचे। ऑप्शनल रूप से नाक से सांस (नाड़ी शोधन प्राणायाम) एक आयुर्वेदिक तकनीक हैं। पैरों को मोड़ कर बैठ जाये और बॉडी को एकदम रिलैक्स करे। फिर बाए हाथ को बाए घुटने पर रखे और हथेलियों को आगे की ओर रखे। आपको अपना दायाँ हाथ का इस्तेमाल करना हैं।

फिर अपनी पॉइंटर और मध्यमा अंगूली को अपनी भौहों के बीच रखे। सांस छोड़ते समय अपने अंगूठे से दायें नाक से बंद करे। बायें नाक से सांस छोड़े, अब दायें नाक से सांस ले और और अपनी उँगलियों को बदलते रहे। अपनी अनामिका और पिंक ऊँगली से बायें नाक को बंद करे और अंगूठा हटा ले। दायें नाक से सांस छोड़े और फिर सांस ले।

एक बार पुनः अपनी उँगलियों को बदले। एक राउंड पुरा करने के लिए बायें नाक से सांस छोड़े, 10 राउंड करे।

दिन के समय नाक से सांस लेने की कोशिश करे। कभी भी दिन के समय मूंह से सांस न ले। रात में नीदं आने से पहले नाक से सांस लेने की कोशिश करे और नाक को जाम होने से बचाए।




अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

कपूर के बेमिसाल फायदे - Benefits of Camphor in Hindi.
ब्लैक टी पीने के फायदे
आखों के नीचे डार्क सर्कल (काले घेरे) को हटाने के उपाय और तरीके।
किताब पढ़ने के 13 फायदे जानिए।
आम के आश्चर्यजनक फायदे जो शायद ही आप जानते हो!
आँखों की रोशिनी बढ़ाने वाले बेस्ट फूड।
घरों में इस्तेमाल होने वाले स्टेनलेस स्टील के बर्तन अब नहीं टूटेंगे
करोड़पति बाप ने अपने बेटे से क्यों करवाई मजदूरी जानिए.
माइग्रेन के उपचार के लिए उपयोगी टिप्स.
महिलाओं का वज़न कम करने वाले बेस्ट फूड।
जानिए 8 ऐसे भ्रम के बारे में जिन्हें हम सच मानते हैं।
वाइटहेड्स को दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।
खजूर खाने के नुकसान के बारे में जानिए।
चिया के बीज खाने से सेहत को होते हैं यह कमाल के फायदे।
जलेबी खाने के फायदे जानिए।
मोर पंख से जुड़े हुए कुछ कारगर ज्योतिष उपाय जो कई समस्याओं से दिलाते हैं निजात।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *