इन कामों को करने से रीढ़ की हड्डी होती हैं कमजोर।

रीढ़ की हड्डी को नुकसान पहुचाने वाली आदतें और काम

रीढ़ की देखभाल करना बहुत ही ज्यादा जरूरी हैं। वैसे तो रीढ़ की हड्डी काफी ज्यादा मजबूत होती हैं, लेकिन यह नाज़ुक भी हैं। सबसे छोटी पीली हुई तंत्रिका के कारण आप कई दिनों तक बेहोश भी हो सकते हैं। क्या आपको पता हैं की आप रोजाना कुछ काम ऐसे करते हैं, जिनसे रीढ़ की हड्डी को नुकसान पहुँचता हैं। जी हाँ, कुछ छोटे-मोटे काम और गतिविधियाँ ऐसी हैं, जिन्हें करने से रीढ़ की हड्डी कमजोर होने लगती हैं और धीरे-धीरे करके उसे नुकसान होने लगता हैं।

क्योंकि यह दैनिक काम हैं, इसलिए इन्हें आपको करना ही पड़ेगा, लेकिन इन कामों को कभी भी गलत तरीके से न करे, क्योंकि इससे रीढ़ की हड्डी को ज्यादा नुकसान होता हैं। आइये जानते हैं की ऐसे कौन से काम हैं, जिन्हें गलत ढंग से करने पर रीढ़ की हड्डी कमजोर होने लगती हैं।

इन कामों को करने से रीढ़ की हड्डी को होता हैं नुकसान :-

■ जूते बाँधना

अगर आप झुकने वाली गतिविधियाँ करते हैं तो आपके डिस्क को हानि पहुँच सकती हैं। लगातार प्रेशर की वजह से पोषण से संबधी पदार्थ रीढ़ को छोड़ देते हैं और यह चपटा होता हैं। इस कारण उस जगह पर दर्द पैदा हो जाता हैं। ऐसे में हमेशा बैठ कर ही जूतों के फीते बाँधने चाहिए, न की झूक कर।

■ कार का पहिया बदलने पर

यह एक ऐसा काम हैं जो आपकी पीठ में दर्द पैदा कर सकता हैं। इसे बदलते समय आपको पहिये तक झुकना नहीं चाहिए। बल्कि जमीन पर बैठ कर ही पहिया बदले, ताकि आपकी आँखें कार के फेंडर के बराबर लेवल पर हो।

■ बैकपैक उठाने पर

बैकपैक्स में 2 पट्टियाँ होती हैं, जिससे हमारी पीठ पर बराबर रूप से भार वितरित किया जा सके। इसलिए दोनो पट्टियों को पहनते समय इसे उठाना जरूरी हैं। इससे रीढ़ की हड्डी और गर्दन पर कम प्रेशर पड़ता हैं।

■ दांतों को ब्रश करते समय

ज्यादातर लोग दांतों में ब्रश खड़े होकर करते हैं। रीढ़ की हड्डी पर इस वक़्त सबसे ज्यादा प्रेशर पड़ता हैं। इसलिए ब्रश करते हुए खड़े होने पर आपको दीवार और सिंक का सहारा लेना चाहिए। इस काम को गलत ढंग से करने से रीढ़ की हड्डी पर बुरा असर पड़ता हैं।

जरूर पढ़े :- दिन में कितनी बार ब्रश करना चाहिए? 

■ फर्श को धोने पर

कभी भी हाथों और फर्शकोले से फर्श को साफ न करे। इसकी बजाये आप एमओपी या ब्रश का इस्तेमाल करे। इससे आप अपने पैरों में प्रेशर डालेंगे, जिससे पीठ और रीढ़ की हड्डी को हानि पहुँचती हैं। फर्श को धोना रीढ़ की हड्डी के लिए नुकसानदायक होता हैं।

■ बर्तन धोना

बर्तन धोते हुए आप प्रेशर युक्त औजारों की तरह आधे मुड़े हुए स्तिथि में खड़े होते हैं। इससे डिस्के जल्दी बाहर निकलने लगती हैं। इससे कंधों के ब्लेड के बीच में दर्द होने लगता हैं। इसलिए बर्तन धोते समय घुटनों के नीचे एक स्टूल रखे, जिससे प्रेशर को कम करने में आसानी हो सके।

■ सामान से भरा हुआ बैग पकड़ना

आप भारी बैग न उठा कर ले जाये। इस सामानों को पकड़ने के लिए 2 आवरणों में डिवाइड करने और उन्हें 2 हाथों का उपयोग करने की जरूरत होती हैं। जिससे आपकी रीढ़ की हड्डी पर एक्स्ट्रा प्रेशर नहीं पड़ता हैं। बाज़ार में भारी सामान से भरे हुए बैग को पकड़ना एक ऐसी मूवमेंट हैं जिससे रीढ़ की हड्डी को नुकसान होता ही हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *