शराब से जुड़े भ्रम और सत्य.

शराब से जुड़े भ्रम और सत्य

क्या आपको शराब से जुड़े हुए यह भ्रम और उनके सत्य के बारे में पता हैं? मतलब की शराब को लेकर कई सारे मिथक जुड़े हुए हैं, जिन्हें दूर करना जरूरी हैं। आइये जानते हैं शराब के मिथ और इनकी सच्चाई। क्योंकि इससे आपके ज्ञान में वृद्धि होगी।

भ्रम :- शराब पीने से पहले भोजन कर लेने से शराब नहीं चढ़ती हैं।

सत्य :- शराब स्टमक लाइनिंग के माध्यम से रक्त में समा जाती हैं। भरे हुए पेट में यह थोड़ा धीरे-धीरे होगा, लेकिन जैसे ही आपका पेट खाली हो जायेगा, यह प्रोसेस तेज़ी पकड़ लेगी। किसी भी हालत में आपको शराब का नशा हो कर ही रहेगा।

मिथ्य :- एनर्जी ड्रिंक के साथ शराब मिला कर पीने से शराब का नशा और बढ़ जाता हैं।

सच्चाई :- एनर्जी ड्रिंक कैफीन से भरे हुए होते हैं। जिससे आप काफी ज्यादा एनर्जेटिक फील करते हैं। इसका शराब की खुमारी से कोई भी वास्ता नहीं हैं। शराब को एनर्जी ड्रिंक के साथ मिला कर पीने से आपको कुछ महसूस ही नहीं हो पाता हैं, की आपने कितनी शराब पी ली हैं और आप कितना ज्यादा थक गये हैं। ऐसा करने से आप लिमिट से कंही ज्यादा शराब पी जाते हैं।

मिथक :- शराब जितनी पुरानी होती हैं, उतनी ही अच्छी होती हैं।

सच :- माना की कुछ बेस्ट वाइन सैंकड़ो साल पुरानी हैं। लेकिन ज्यादातर वाइन एक या दो साल के अंदर पीने के लिए ही सही रहती हैं। इन्हें लम्बे समय तक रखने से न तो इनके स्वाद में कोई बढ़ोतरी होती हैं और न ही इनकी क्वालिटी में। इसलिए शराब पुरानी होने पर अच्छी हो जाये, यह एक झूठ हैं।

भ्रम :- डार्कर अल्कोहल सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

सत्य :- डार्कर बियर्स और डार्कर व्हिस्की जैसे डार्कर एल्कोहल में अधिक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, लेकिन उनमे ज्यादा मात्रा में कॉन्जनेर्स भी होते हैं। कॉन्जनेर्स वे टॉक्सिक तत्व है जो शराब बनाने के प्रोसेस में खुद ही बन जाते हैं। इसके अलावा डार्कर एल्कोहोल्स में कैलोरी भी ज्यादा होती हैं।

मिथक :- उल्टी कर देने के बाद शराब का नशा उतर जाता हैं।

सत्य :- गले से निचे उतरते ही शराब खून में समाने लगती हैं। जब तक आप उल्टी करेंगे, तब तक आपके खून में इतनी शराब समा चुकी होगी की आपको हैंगओवर की समस्या होगी ही होगी। उल्टी करने से शराब की थोड़ी मात्रा ही बाहर निकल जाएगी, जिससे आपका हैंगओवर ज्यादा नहीं बढ़ेगा। लेकिन हैंगओवर होने का ख़तरा पूरी तरह से समाप्त हो जाये, ऐसा भी होना मुमकिन नहीं हैं।

भ्रम :- जिन लोगो को शराब देर से चढ़ती हैं, वह जितनी मर्ज़ी शराब पी सकते हैं।

सत्य :- अगर आपको देर से दारु चढ़ती हैं तो इसका अर्थ यह नहीं है की ज्यादा शराब पी सकते हैं। देर से शराब का नशा चढ़ने का मतलब यह हैं की आपका शरीर आपको जरूरी संकेत नहीं दे पा रहा हैं, की कब आपको पीना बंद कर देना चाहिए। यह स्तिथि तो आपके लिए और भी ज्यादा नुकसानदेह हो जाती हैं।

मिथक :- शराब पीने से नींद अच्छी आती हैं।

हकीकत : शराब पीने से नींद जल्दी आ सकती है, लेकिन वह नींद, अच्छी नींद नहीं होती हैं। इसके बाद जब आपकी नींद टूटती हैं तो आप खुद को फ्रेश भी महसूस नहीं कर पाते हैं।

भ्रम :- कभी-कभार पी लेने से कुछ नहीं होगा।

सच :- रोजाना के हिसाब से ऐल्कॉहॉल की रेकमेंडेड लिमिट स्त्रियों के लिए एक ड्रिंक और मर्दों के लिए 2 ड्रिंक हैं। लेकिन अगर आप वीकडेज़ पर नहीं पीते हैं और वीकेंड पर बोतल पर बोतल पीते हैं, तो इससे आपके स्वास्थय पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

चमकीले सफ़ेद दांत पाने के लिए जरूर अपनाए यह 20 उपयोगी टिप्स।
WhatsApp के कुछ interesting फैक्ट्स के बारे में जानिए.
केले के उपयोगी घरेलू नुस्खे, उपाय और फायदे।
कंप्यूटर के कीबोर्ड पर J और F अक्षर उभरे हुए क्यों होते हैं?
शलगम खाने के फायदे जरूर पढ़े.
अमरुद की पत्तियों के घरेलु नुस्खे और फायदे.
मोबाइल के बारे में रोचक तथ्य और जानकारी जानिए।
दूध पिलाने वाली माओं को अपने बच्चे को कितने साल दूध पिलाना चाहिए?
सूरजमुखी के बीज खाने से सेहत को होते हैं यह कमाल के फायदे।
लैपटॉप का ज्यादा इस्तेमाल करने से सेहत होते यह नुकसान।
ज्यादा मात्रा में शहद खाने से होते हैं यह नुकसान।
स्टीविया क्या हैं और यह डायबिटीज में कैसे लाभकारी होता हैं?