साइकिल चलाने के फायदे.

cycling karne ke fayde. Benefits of Cycling in Hindi.

साइकिलिंग (साइकल चलाने) के फायदे बहुत हैं, क्या आपको पता हैं की साइकिलिंग से हेल्थ को क्या-क्या लाभ मिलता हैं? Benefits of Cycling in Hindi. Cycle chalane ke fayde janiye.

बचपन में आप सभी ने साइकिलिंग ज़रूर की होगी, अब मॉडर्न बिज़ी लाइफ में इतना वक़्त नही मिल पाता की आप साइकिलिंग करे. लेकिन क्या आपको पता हैं की साइकिल चलाने से आपके कई प्रॉब्लम्स दूर हो सकते हैं. आइए जानते हैं साइकिल चलाने के फायदे के बारे में :-

चेहरे पर ना दिखे उम्र का असर

Stanford University के साइंटिस्ट के अनुसार नियमित साइकिलिंग से स्किन सूरज की परा बैंगनी किरणों के बुरे प्रभाव से बचती हैं जिससे बाधित उम्र चेहरे पर दिखाई नही देती. ब्रिटेन के Harley Street की Dermatologist Dr. Christopher Rowland Payne का कहना हैं की साइकिलिंग जैसी कसरत से ब्लड फ्लो तेज़ होता हैं और त्वचा और सेल्स को ज़्यादा मात्रा में ऑक्सिजन और पोषक तत्व मिलते हैं.

आँतो के कैंसर से बचाव

Bristol University के एक्सपर्ट्स के अनुसार जो लोग साइकिलिंग करते हैं उनकी बड़ी आँत में भोजन की एक्टिविटी तेज़ होकर आसानी से हजम हो जाता हैं. वही Harley Street के Gastroenterologist Dr. Ana Raymudo का कहना हैं की साइकिलिंग आँतो के कैंसर के ख़तरे को कम कर देती हैं. इससे हार्ट रेट बढ़ता हैं और साँसे तेज़ चलती हैं जिससे आँतो को लाभ होता हैं.

इन्फेक्शन नही सताता

साइकिलिंग इम्यून सेल्स को एक्टिव करती हैं और इन्फेक्शन से लड़ने की क्षमता को बढ़ाती हैं. इनडोर साइकिलिंग की बजाए खुले मैदान, सड़को आदि पर साइकल चलाना ज़्यादा फायदेमंद होता हैं. इससे आपको नेचुरल और फ्रेश एन्वाइरन्मेंट में रहते हुए बिना बोरियत के वर्कआउट करने का मौका मिलता हैं.

नींद ना आने की समस्या में

Stanford University school of Medicine के रिसर्चर्स कहते हैं जो लोग फिज़िकली वर्क की कमी के कारण अनिद्रा के रोगी हैं, वे रोजाना 20 से 30 मिनट तक साइकल चलाए. इससे उन्हे स्कून भरी नींद आएगी. साइकल जैसी एक्सरसाइज से हमारे शरीर का चक्र संतुलित होता हैं. इससे स्ट्रेस हॉर्मोन बे-असरदार हो जाता हैं और गहरी नींद आती हैं. उम्रदराज लोग, घुटने से संबंधित परेशानी और जोड़ संबंधी सर्जरी कराने वाले लोगो को डॉक्टर की सलाह के बाद ही साइकिलिंग करनी चाहिए, वरना तखलीफ बढ़ने का ख़तरा हो सकता हैं. हफ्ते में 5 दिन साइकिलिंग आपको फिट बना सकती हैं.

माँ और शिशु रहेंगे हेल्दी

Michigan University के रिसर्चर्स के अनुसार गर्भावस्था में नियमित रूप से साइकिलिंग करने से डिलीवरी के दौरान दर्द कम होता हैं. लेकिन शुरूवाती और आख़िरी महीने में साइकिलिंग नही करना चाहिए. गर्भवती महिलाओं को इनडोर साइकिलिंग करना ज़्यादा लाभकारी होता हैं क्योंकि वह ज़रूरत के अनुसार साइकल पर कंट्रोल बनाए रखेंगी. बाहरी टेंपरेचर का भी उनपर कोई असर नही पड़ेगा.

दिल के रोगो से बचे रहेंगे

एक रिसर्च के अनुसार यह रिज़ल्ट पाया गया हैं की नियमित साइकिलिंग दिल की बीमारी होने का ख़तरा 50% तक कम कर देता हैं. ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन का कहना हैं की अगर लोग नियमित रूप से नॉर्मल एक्सरसाइज करे तो हर साल 10 हज़ार से ज़्यादा हार्ट अटैक से होने वाली मौतों को कम किया जा सकता हैं.

फेफड़ो की क्षमता बढ़ेगी

हम टीवी देखते समय जितनी ऑक्सिजन लेते हैं, उससे 10X ज़्यादा ऑक्सिजन साइकिलिंग करने से मिलती हैं. साइकिलिंग ना सिर्फ़ कार्डियोवॅस्क्युलर सिस्टम को मजबूत बनाती हैं बल्कि फेफड़ो की पावर को भी बढ़ाती हैं. तेज़ साइकिलिंग करने से रक्त संचार (ब्लड फ्लो) भी तेज़ होता हैं जिससे शरीर को अच्छी ख़ासी एनर्जी मिलती हैं.

कैंसर से बचाव

जिन कसरतो से कैंसर का ख़तरा कम होता हैं, उनमे से साइकिलिंग सबसे बेस्ट हैं. कई रिसर्चर्स का कहना हैं की 30 मिनट रोज साइकल चलाने से कैंसर होने का ख़तरा कम हो जाता हैं. यदि महिलाए नियमित रूप से साइकल चलाए तो ब्रेस्ट कैंसर का ख़तरा कम होगा.

बच्चों की एक्सरसाइज

साइकिलिंग बच्चों के लिए बेस्ट एक्सरसाइज हैं. क्योंकि बढ़ते बच्चों के लिए ज़रूरी हैं की वह नियमित रूप से एक्सरसाइज करे, ऐसे में साइकिलिंग उन्हे फुल बॉडी वर्कआउट करवाती हैं. इससे उनकी एकाग्रता में बढ़ोतरी होती हैं और वह क्लास में अच्छा परफॉर्म करते हैं.



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...