सुपारी खाने के फायदे और नुकसान जानिए।

सुपारी के फायदे और नुकसान

बिना सुपारी के पान अधुरा हैं, इसलिए पान में सुपारी का इस्तेमाल किया ही जाता हैं। सुपारी एक ऐसी चीज़ हैं, जिसे पूजा-पाठ में भी उपयोग किया जाता है, खास करके मांगलिक और शुभ कार्यों में सुपारी का प्रयोग होता ही हैं। आज के लेख में हम सुपारी खाने के फायदे, नुकसान और इसके उपयोगी घरेलू उपाय और नुस्खे आदि के बारे में जानेंगे। Health Benefits & Side-effects of Betel nut in Hindi.

पान बनाने के लिए सुपारी का उपयोग करना लाजमी हैं। दूसरी ओर कुछ लोग ऐसे भी है जो सुपारी में चूना लगा कर खाते हैं। आयुर्वेद में सुपारी को बहुत ही गुणकारी माना गया हैं। सुपारी पेट से जुड़ी समस्याएं, कब्ज़, पेट के कीड़े, गैस आदि को दूर कर सकती हैं। सुपारी में औषधीय गुण पाए जाते हैं। इसमें टैनिन, गैलिक एसिड, लिगनिन, एरिकोलिन और एरीकेन जैसे एल्केलायड होते हैं। साथ ही सुपारी में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट और मिनरल्स भी पाए जाते हैं।

सुपारी खाने के फायदे :-

1. डायबिटीज में फायदेमंद

सुपारी में अर्कोलाइन नामक बॉयो कैमिकल होता हैं। रिसर्च के अनुसार यह केमिकल डायबिटीज को कण्ट्रोल करने का काम करता हैं। लेबोरेटरी में जानवरों पर टेस्ट किया गया, जिससे यह पता चला की इस केमिकल की वजह से एक निश्चित समय तक उनके ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया गया।

2. स्किन प्रॉब्लम दूर करे

यह एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो स्किन प्रॉब्लम्स से निजात दिलाता हैं। स्किन की समस्याएँ जैसे की दाद-खाज, खुजली और चकत्ते आदि होने पर सुपारी को पानी के साथ घीस कर लेप लगाना चाहिए। अगर खुजली की समस्या बहुत ज्यादा हो गयी हैं तो सुपारी की राख को तिल के तेल में मिक्स करके स्किन पर लगाना चाहिए, खुजली से आराम मिलेगा।

जरूर पढ़े :- दाद-खाज, खुजली को दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

3. मूंह को सूखने से रोके

मधुमेह की वजह से कई लोगो के मूंह सूखने लगते हैं। ऐसे में मूंह के सूखने को रोकने के लिए सुपारी कारगर होती हैं। थोड़ी मात्रा में सुपारी को चबाते रहने से ज्यादा सलाइवा (लार) बनने लगता हैं, जिससे मूंह सूखने की समस्या से बचने में आसानी होती हैं।

4. डिप्रेशन दूर करे

आयुर्वेद की माने तो सुपारी में नर्वस सिस्टम को उत्तेजित करने वाले गुण पाए जाते हैं। एक रिसर्च यह भी बताती हैं की सुपारी में एंटी-डेप्रेजेंट यानी अवसादरोधी तत्व पाए जाते हैं। जो तनाव को कम करके डिप्रेशन से मुक्ति दिलाते हैं।

5. जख्म जल्दी भरता हैं

अगर घाव हो गया है तो सुपारी से बने हुए काढ़े से जख्म को धो कर इसका बारीक चूर्ण घाव पर लगाना चाहिए। इससे ज़ख्म से खून निकलना बंद हो जाता हैं, साथ ही घाव भरने लगता हैं।

6. कैविटी दूर करे

इसमें एंटी-बैक्टीरियल गुण उपस्तिथ होते हैं जो कैविटी को रोकने में प्रभावकारी हैं। इसीलिए सुपारी का इस्तेमाल कई सारे दांतों के मंजनों को बनाने के लिए किया जाता हैं। आयुर्वेदिक मंजनों में सुपारी एक महत्वपूर्ण घटक हैं। दांतों पर कीड़ा लगने पर सुपारी को जला कर राख बना ले, इस राख को मंजन की तरह दांतों में प्रयोग करे। इससे दांतों के कीड़े नष्ट हो जाते हैं।

7. हाई ब्लड प्रेशर कम करे

सुपारी को खाने से हाई ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता हैं। रिसर्च के अनुसार सुपारी में मौजूद टैनिन नामक तत्व एंजियोटेनसिन (रक्त वाहिकाओं का पतला करने वाला पदार्थ) वन और टू दोनों के जवाब में रुकावट पैदा करके हाई ब्लड प्रेशर एक्टिविटी को कंट्रोल करने में मददगार हैं।

8. स्किजोफ्रेनिया से राहत दिलाये

स्किजोफ्रेनिया पागलपन जैसी एक बीमारी हैं। सुपारी के सेवन से स्किजोफ्रेनिया के लक्षणों में कमी आती हैं। प्रेलिमिनरी रिसर्च एनआईएच के मुताबिक, स्किजोफ्रेनिया के मरीज़ अगर सुपारी को खाते हैं तो उन्हें काफी ज्यादा फायदा होता है, उनका पागलपन कम होने लगता हैं।

सुपारी के अन्य लाभ :-

■ बार-बार पेशाब लगने की समस्या हैं तो सुपारी के एक या दो ग्राम चूर्ण को गाय के घी के साथ मिला कर लेने से फायदा होता हैं।

मसूड़ों से खून आने की समस्या में सुपारी को मोटा कूट कर काढ़ा बनाये। इस काढ़े से कुल्ला करने से फायदा होगा। साथ ही इसकी राख यानि भस्म को दन्त मंजन में मिला कर मसूड़ो पर मालिश करनी चाहिये।

■ श्वेत प्रदर (लिकोरिया) की बीमारी में इसके काढ़े से उत्तरवस्ति दी जाती हैं।

■ पेट में कीड़े यानि राउंड वर्म या टेपवर्म होने पर तीन ग्राम सुपारी के पाउडर को 250 ml दूध में मिला कर खाली पेट पीना चाहिए। इससे पेट के कीड़े नष्ट होने लगते हैं।

जरूर पढ़े :- पेट के कीड़े खत्म करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

■ अतिसार होने पर इसका एक ग्राम चूर्ण अन्य औषधियों के साथ मिला कर लेने से राहत मिलती हैं।

सुपारी के नुकसान :-

वैसे तो सुपारी आपको पान की दुकानों पर आसानी के साथ मिल जाएगी। लेकिन इतने फायदे होने के बावजूद W.H.O. ने इसे सेहत के लिए हानिकारक ही माना हैं। इसमें ऐसे रसायन भी पाए जाते हैं जो इसे नुकसानदायक बना देते हैं। इसी वजह से सुपारी को दुनिया के कई देशों में बैन भी लगाया गया हैं। आइये जानते हैं सुपारी खाने के नुकसान क्या हैं?

1) दांत खराब हो सकते हैं

अगर आप नियमित रूप से सुपारी खाते हैं तो इससे दांतों के इनेमल खराब हो जाते हैं। साथ ही इससे मसूड़े भी ढीले होने लगते हैं। समय रहते हुए सुपारी को खाना छोड़ दे, वर्ना आपके दांत पहले तो लाल हो जायेंगे, बाद में धीरे-धीरे करके यह काले और बदरंग दिखाई देने लगेंगे।

2) वात रोग होने की सम्भावना

जरूरत से ज्यादा मात्रा में सुपारी के सेवन से वात रोग बढ़ जाते हैं।

3) मूंह का कैंसर होना

रिसर्च बताते हैं की सुपारी को खाने से कैंसर होने का ख़तरा बढ़ जाता हैं। सुपारी में ऐसे तत्व भी पाए जाते हैं जो कैंसर कारक हैं। सुपारी के टुकड़े को मूंह में डालकर रखने से नुकसान होता हैं। इससे मूंह के कैंसर होने की सम्भावना काफी ज्यादा बढ़ जाती हैं।

4) नशे की आदत लगाना

रोजाना सुपारी खाने से आप पान-मसाला, गुटखा खाने की ओर प्रेरित होने लगते हैं। डॉक्टर भी सुपारी को न चबाने की सलाह देते हैं। गुटखा खाने वाले कई लोगो ने यह माना हैं की शुरू शुरू में वह लोग मीठी सुपारी खाते थे, लेकिन जैसे जैसे समय बीता वह गुटखा खाने लगे और आज वह इस बुरी आदत के शिकार हो गये है।

5) केमिकल प्रभाव होना

इसमें कई ज़हरीले तत्व भी होते हैं जो शरीर में दाखिल हो कर दुसरे तत्वों के साथ प्रक्रिया करके ऐसी गैसों और केमिकल पदार्थों का निर्माण करने लगते हैं। जिससे सेहत को नुकसान उठाना पड़ता हैं। इसका ज्यादा सेवन करने से रक्तभार कम होने लगता हैं, साथ ही चक्कर आने की समस्या हो सकती हैं।

6) दिल की बीमारियाँ होने का ख़तरा

रिसर्च के अनुसार सुपारी के सेवन से दिल से सम्बन्धित कई सारी बीमारियाँ होने की आशंका बढ़ जाती हैं। इससे मोटापे की समस्या भी हो सकती हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

गर्मियों के दिनों में ठंडक देते हैं यह फल, जरूर खाए।
इमली के टॉप 10 फायदे जानिए।
किताब पढ़ने के 13 फायदे जानिए।
च्यवनप्राश खाने के फायदे और नुकसान.
शरीर से ज्यादा पसीना आने की समस्या को दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए?
लौकी के जूस में अदरक का जूस मिला कर पीने के फायदे जानिए।
आइये हेपेटाइटिस के बारे में जानते हैं, कैसे होता हैं, कितने प्रकार का हैं, लक्षण और बचने का तरीका।
इन गलत आदतों की वजह से मेटाबोलिज्म रेट हो जाता हैं धीमा...
मूली का रस (जूस) पीने के 18 फायदे जानिए।
गर्भवती महिलाओं को अंगूर क्यों नहीं खाना चाहिए?
अगर आपके पैर हमेशा रहते हैं ठंडे, तो इसकी वजह होती हैं यह।
विटामिन बी के बारे में पूरी जानकारी, इसके फायदे, स्रोत और कमी के नुकसान जानिए।