सौंफ खाने के 20 फायदे और घरेलु नुस्खे एवं उपाय।

Saunf ke gharelu nuskhe aur fayde. Benefits & home remedies of fennel seeds in Hindi.

सौंफ का इस्तेमाल भारतीय रसोई में किया ही जाता हैं। सौंफ का इस्तेमाल मीठे और नमकीन चीजों में किया जाता हैं, जिससे खाने वाली चीजों का स्वाद बढ़ जाता है। सौंफ एक ऐसा मसाला हैं, जिसे आचार बनाने के लिए उपयोग किया ही जाता हैं। सौंफ खाने के फायदे इतने सारे हैं की लोग खाना खाने के बाद सौंफ और मिश्री को खाते हैं, ताकि भोजन आसानी के साथ पच जाये और सेहत को भी लाभ हो सके। सौंफ के फायदे इतने ज्यादा हैं की सौंफ का इस्तेमाल कई सारी बिमारियों को दूर करने के लिए घरेलु उपचार के रूप में किया जाता हैं। सौंफ के घरेलु नुस्खे, उपाय काफी ज्यादा कारगर माने गये हैं। Health Benefits & Home Remedies of Fennel Seeds in Hindi.

सौंफ में सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं। साथ ही यह खुशबूदार और मीठी होती हैं, इसलिए कई सारे रेस्तरां और होटल में भोजन करने के बाद ग्राहकों को सौंफ और चीनी खाने के लिए दिया जाता हैं। सौंफ की तासीर ठंडी होती है, जिसकी वजह से यह शरीर को ठंडा रखता हैं। इसकी महक काफी ज्यादा अच्छी होती है, जिसके कारण यह आपको ताज़गी का अहसास दिलाता हैं। सौंफ बेहतरीन माउथफ्रेशनर के रूप में काम करता हैं। सौंफ में ऐसे पोषक तत्व और गुण पाए जाते हैं, जिससे शरीर को फिट रखने में आसानी होती हैं। साथ ही सौंफ का प्रयोग कई सारे इत्र यानि सेंट बनाने के लिए भी किया जाता हैं।

सौंफ खाने के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय :-

1. सौंफ को खाने से आँखों की रोशनी तेज़ होती हैं। सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में मिला कर पीस ले और इसकी चम्मच मात्रा सुबह-शाम पानी के साथ लगातार 2 महीने तक ले। इससे आँखों की रोशनी बढ़ने लगती हैं

2. सौंफ, बादाम और मिश्री इन तीनो को बराबर मात्रा में लेकर पीस कर चूर्ण बना ले। फिर इस चूर्ण को किसी जार में भर कर रख ले। दोपहर और रात का भोजन करने के बाद एक चम्मच इस चूर्ण की मात्रा पानी या दूध के साथ ले। इससे याददाश्त (स्मरणशक्ति) में सुधार आता हैं और आपकी ब्रेन मेमोरी तेज़ हो जाती हैं। यह कमजोर याददाश्त को बढ़ाने का अच्छा उपाय हैं।

3. प्रतिदिन खाली पेट सुबह-शाम सौंफ खाने से रक्त शुद्ध बनता हैं, यानी इससे खून की सफाई हो जाती हैं। जब खून साफ बनेगा तो स्किन भी ग्लो करने लगती हैं। साथ ही चेहरे के कील-मुहांसे भी गायब होने लगते हैं।

4. अगर महिलाओं के पीरियड्स अनियमित हैं तो सौंफ को गुड़ के साथ मिला कर खाना चाहिए। इससे मासिक चक्र को नियमित बनाने में मदद मिलती हैं।

5. सौंफ की तासीर ठंडी होने के कारण इसे गर्मियों के दिनों में ज्यादा इस्तेमाल किया जाता हैं। सौंफ की ठंडाई बना कर पीने से गर्मी शांत हो जाती हैं। साथ ही गर्मी की वजह से जी मिचलाने की समस्या से आराम मिलता हैं।

6. पेट में दर्द होने पर भूनी हुई सौंफ को चबाने से फायदा होता हैं। इससे पेट दर्द ठीक हो जाता हैं।

7. अगर मूंह से बदबू आने की समस्या हैं तो दिन भर में 3 से 4 बार आधा चम्मच सौंफ चबाते रहना चाहिए। इससे मूंह से दुर्गन्ध आने की समस्या दूर हो जाती हैं और यह एक बेहतरीन माउथफ्रेशनर का काम करता हैं।

8. खट्टी डकारें आ रही हैं तो थोड़े से सौंफ को पानी में उबाल कर मिश्री मिला कर पीना चाहिए। इन भर में 2 से 3 बार सौंफ के इस पानी को पीने से खट्टी डकारें आनी बंद हो जाती हैं

9. नींद न आने की समस्या हैं तो दूध में सौंफ उबाल कर और इसमें शहद मिला कर पीना चाहिए। इससे नींद अच्छी आने लगती हैं।

10. बुखार होने पर सौंफ को पानी में उबाल कर 2-2 चम्मच लेने से बुखार कम करने में मदद मिलती हैं।

जरूर पढ़े :- बुखार कम करने के आसान घरेलु नुस्खे और उपाय।

11. यह वजन कम करने में काफी ज्यादा मददगार होता हैं। इसके सेवन से बॉडी का मेटाबोलिज्म रेट तेज़ बनता है, जिससे फैट को बर्न करने में आसानी होती हैं। सौंफ के साथ काली मिर्च मिला कर लेने से मोटापा कम होने लगता हैं।

12. हाथ पैर में जलन होने पर सौंफ के साथ बराबर मात्रा में धनिया मिला कर कूट-छानकर, मिश्री के साथ मिला कर रोजाना खाना खाने के बाद 5 से 6 ग्राम मात्रा में सेवन करे। कुछ ही दिनों में हाथ-पैर में होने वाली जलन शांत हो जाती हैं।

13. सौंफ के सेवन से खांसी दूर हो जाती हैं। सौंफ को अंजीर के साथ मिला कर खाने से खांसी और दमा ठीक हो जाता हैं। सौंफ के 10 ग्राम अर्क को शहद में मिला कर लेने से खांसी आना बंद हो जाती हैं।

14. अगर गले में खराश हो गयी हैं तो सौंफ को चबाये। इससे गले की खराश दूर हो जाती हैं और साथ में बैठा हुआ गला भी ठीक हो जाता हैं।

15. पेट में भारीपन की समस्या हैं तो नींबू के रस में सौंफ को भिगो कर खाना चाहिए।

16. अफारा होने पर सौंफ को पानी में उबाल कर इसके पानी की एक-एक चम्मच मात्रा दिन भर में थोड़ी-थोड़ी देर बाद लेने से फायदा होता हैं।

17. सौंफ को खाने से लीवर हेल्दी बनता हैं और पाचन क्रिया भी दुरुस्त बनती हैं। सौंफ पाचन क्रिया को सही बनाये रखता हैं। डायरिया होने पर सौंफ खाने की सलाह दी जाती हैं।

18. खाना खाने के बाद सौंफ के साथ मिश्री मिला कर खाने से खाना जल्दी हजम हो जाता हैं। साथ ही पाचक चूर्ण की बात करे तो सौंफ, जीरा और काला नमक मिला कर चूर्ण बनाये। भोजन करने के पश्चात गुनगुने पानी के साथ इस चूर्ण को लेने से खाना अच्छी तरह से पच जाता हैं।

19. कब्ज़ की समस्या को खत्म करने के लिए आधा ग्राम गुलकंद के साथ सौंफ मिला रात को सोने से पहले दूध के साथ पीना चाहिए। इससे कब्ज़ से छुटकारा मिल जाता हैं।

20. सौंफ और मिश्री या चीनी को एक साथ पीस कर चूर्ण बना ले और रात को सोने से पहले तकरीबन 5 ग्राम इस चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ ले। इससे पेट में गैस नहीं बनती हैं और साथ ही पेट से जुड़ी अन्य समस्याएं भी दूर हो जाती हैं। यह अपच और बदहजमी से भी निजात दिलाता हैं।







अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *