हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने की टिप्स और उपाय।

हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने की टिप्स और उपाय।

आखिर यूरिक एसिड क्या हैं और यह कैसे बनता हैं?

हमारे शरीर में भोजन के पाचन के दौरान खाद्य पदार्थ में मौजूद प्रोटीन से प्युरीन और प्युरीन से यूरिक एसिड बनता हैं। प्रोटीन एमिनो एसिड के संयोजन से बना हैं। पाचन क्रिया के दौरान जब प्रोटीन टूटता हैं तो यूरिक एसिड बनता हैं जैसे की पहले भी बताया गया हैं। और यह ब्लड के माध्यम से किडनी तक पहुचता हैं और यह यूरिक एसिड पेशाब के जरिये शरीर से बाहर निकल जाता हैं। लेकिन कई बार यह पूरी तरह से शरीर से बाहर नहीं निकल पाता हैं और शरीर में जमा होने लगता हैं। जिस कारण शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती हैं।

सभी मनुष्यों के शरीर में सिमित मात्रा में यूरिक एसिड होना फायदेमंद होता हैं। लेकिन जब इसकी मात्रा शरीर में बढ़ जाती हैं तो आपको कई सारी स्वास्थ्य समस्याएं घेर लेती हैं। शरीर में यूरिक एसिड लेवल के बढ़ जाने को हायपरयूरीसेमिया (hyperuricemia) कहा जाता हैं। एक स्वस्थ्य महिला के शरीर में यूरिक एसिड का नार्मल लेवल 2.4-6.0 mg/dL और पुरुषों में 3.4-7.0 mg/dL होना जरूरी हैं। लेकिन जब शरीर में हाई यूरिक एसिड हो जमा हो जाता हैं तो आपको पथरी भी हो सकती हैं।

हाई यूरिक एसिड के नुकसान और यह शरीर में कैसे बढ़ता हैं :-

हाई प्रोटीन और शुगर वाले खाद्य पदार्थो के ज्यादा सेवन से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा ज्यादा बढ़ती हैं। कई लोगो को वंशुगानित यानि की जेनेटिक कारणों से भी हाई यूरिक एसिड की समस्या होती हैं। आमतौर पर किडनी खून में मौजूद फालतू यूरिक एसिड को मूत्र के माध्यम से शरीर से बाहर निकाल देती हैं, लेकिन जिन लोगो की किडनी सही ढंग से काम नहीं करती हैं, उनके शरीर में यूरिक एसिड जमा होने लगता हैं। यानि की किडनी की खराबी की वजह से भी यूरिक एसिड बढ़ जाता हैं।

कई लोग ज्यादा डाइटिंग और उपवास करते हैं, इसकी वजह से भी उन्हें हाई यूरिक एसिड की समस्या का सामना करना पड़ता हैं। ज्यादा उपवास करना भी यूरिक एसिड को बढ़ाने का काम करता हैं। कुछ ऐसी दवाएं भी हैं जिनके साइड-इफ़ेक्ट की वजह से बॉडी में यूरिक एसिड का लेवल बढ़ जाता हैं। अगर व्यक्ति की किडनी भीतरी दीवारों की लाइनिंग क्षतिग्रस्त हो तो ऐसे में यूरिक एसिड बढ़ने की वजह से किडनी में स्टोन भी बनने लगता है।

यह खराब मॉडर्न लाइफस्टाइल की वजह से दुनिया में बड़ी तेज़ी के साथ बढ़ रही गंभीर समस्या हैं। यह 25 से 40 वर्ष के युवा पुरुषो में में सबसे ज्यादा पायी जाती हैं, तो वही महिलाओं में हाई यूरिक एसिड होने की समस्या 50 वर्ष के आयु के बाद देखने को मिलता हैं।

यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाने पर यह ब्लड फ्लो के जरिये पैरो की उँगलियों, टखनों, घुटनों, कोहनी और कलाईयों के साथ साथ हाथों की उँगलियों में इसके कण जमा होने लगते हैं। और इसके दुष्परिणाम के तौर पर जोड़ो में दर्द और सूजन होने लगता हैं। यूरिक एसिड लेवल के असंतुल होने पर आपको गठिया की बीमारी भी हो सकती हैं। अगर आपके पैरों की उँगलियों, टखनों और घुटने में दर्द बना रहता हैं तो इसे आम थकान की वजह से होने वाला दर्द समझ कर अनदेखा न करे, क्योंकि यह आपके शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने का लक्षण भी हो सकता हैं। इसलिए आपको हर 6 महीने बाद अपने यूरिक एसिड लेवल की जांच करवाते रहना चाहिए।

हाई यूरिक एसिड लेवल को कण्ट्रोल करने के टिप्स :-

हाई यूरिक एसिड की मात्रा को कण्ट्रोल करना बहुत ही जरूरी हैं। अगर शरीर में यूरिक एसिड अनुवांशिक हैं तो इसे कण्ट्रोल किया जा सकता हैं। लेकिन यह किडनी की खराबी की वजह से हैं तो डॉक्टर की सलाह ले और दवाईयों के जरिये इसे ठीक करे। वैसे कुछ नेचुरल तरीको से आप हाई यूरिक एसिड लेवल को कम कर सकते हैं। आइये जानते हैं की यूरिक एसिड को कम करने के लिए क्या करे और क्या नहीं करे? हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने के लिए क्या खाए? इससे बचने के लिए क्या नहीं खाए?

Tips for High Uric Acid level in Hindi. High Uric Acid level ko kam karne ke liye Best Tips.

हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने की टिप्स :-

ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए

पानी पीने से शरीर को बहुत फायदे होते हैं। पानी शरीर को कई सारी बीमारियों से बचाता हैं। इससे शरीर हमेशा हाइड्रेट रहता हैं। जैसे की पहले भी बताया गया हैं की यूरिक एसिड शरीर से यूरिन के जरिये ही बाहर निकलता हैं, इसलिए थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीते रहना चाहिए। ज्यादा मात्रा में पानी पीने से हाई यूरिक एसिड का लेवल कम हो जायेगा, क्योंकि खून में मौजूद एक्स्ट्रा यूरिक एसिड पेशाब के जरिये शरीर से बाहर निकल जाता हैं। इसलिए हाई यूरिक एसिड लेवल  ज्यादा होने पर दिन में कम से कम 2 से 3 लीटर आपको पानी पीना चाहिए।

भोजन ओलिव ऑयल में बनाये

जी हाँ यह बात बिलकुल सच हैं की ओलिव ऑयल यानि की जैतून के तेल में बना खाना सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता हैं। ओलिव आयल में विटामिन ई प्रचुर मात्रा में होता हैं जो भोजन को न्यूट्रीएंट्स से भरपूर बनाता हैं और शरीर में यूरिक एसिड के लेवल को कम करने में मदद करता हैं।

यह भी पढ़े :- ओलिव ऑयल (जैतून के तेल) के फायदे।

बेकिंग सोडा का उपयोग

एक गिलास पानी में आधा चम्मच बेकिंग सोडा मिला कर रोजाना 8 गिलास पीने से यूरिक एसिड क्रिस्टल भंग करने और यूरिक एसिड घुलनशीलता को बढ़ाने में मदद मिलती हैं। लेकिन इसमें सोडियम ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं इसलिए इस उपाय को करने से पहले यह जान ले की इससे आपका ब्लड प्रेशर बढ़ सकता हैं।

विटामिन सी वाले फल खाए

रोजाना अपने खाने में कम से कम 500 ग्राम विटामिन सी वाले आहार जरूर खाए। विटामिन सी से भरपूर फल और आहार खाने से हाई युरीक एसिड लेवल को कम करने में मदद मिलती हैं। विटामिन सी यूरिक एसिड को मूत्र के जरिये बाहर निकालने में सहायता करता हैं।

प्युरीन वाले खाद्य पदार्थ न खाए

बॉडी में हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने के लिए सबसे पहले आपको प्युरीन वाले खाद्य पदार्थो को नहीं खाना चाहिए। प्युरीन वाले फ़ूड एनर्जी से भरपूर होते हैं। किडनी की प्रॉब्लम होने पर प्युरीन वाले आहार शरीर में यूरिक एसिड को जमा करने का काम करते हैं। इसलिए आपको बकरे का मीट, रेड वाइन, प्रोसेस्ड चीज, दाल, राजमा, समुंदरी भोजन, ऑर्गन मीट, सेम, गोभी, टमाटर, पालक, शतावरी, मटर, मशरूम आदि को ज्यादा नहीं खाना चाहिए। इन चीजों को ज्यादा मात्रा में सेवन करने से यूरिक एसिड बढ़ जाता हैं।

अजवाइन से इलाज

अजवाइन हाई यूरिक एसिड को कम करने का एक नेचुरल उपाय हैं, क्योंकि इसे मूत्रवर्धक माना जाता हैं। यह ब्लड में Alkali के लेवल को कम करके सूजन को कम करने में सहायक हैं।

ब्रोकली का सेवन करे

ब्रोकली में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं। इसमें विटामिन सी की भी अच्छी मात्रा पाई जाती हैं। इसके नियमित सेवन से बॉडी का हाई यूरिक एसिड कम हो जाता हैं।

शराब न पिए

शराब को पीने से आपकी बॉडी dehydrate हो जाती हैं, इसलिए शराब को प्युरीन से भरपूर खाद्य पदार्थो के साथ बिलकुल भी नहीं पीना चाहिए। इसी तरह बियर में यीस्ट ज्यादा होता हैं, इसलिए इन्हें पीने से भी बचना चाहिए। हालांकि की वाइन यूरिक एसिड के लेवल पर अपना असर नहीं डालती हैं।

यह भी पढ़े :- व्हिस्की पीने के फायदे। 

रोजाना कसरत करे

रोजाना कसरत करने से आप आसानी से यूरिक एसिड लेवल कम कर सकते हैं। क्योंकि नियमित व्यायाम करने से शरीर में फालतू प्रोटीन जमा नही हो पाता हैं। इसलिए हाई यूरिक एसिड से बचने के लिए प्रतिदिन कसरत जरूर करे।

बेकरी वाले उत्पादों के सेवन से बचे

बेकरी में मिलने वाले फूड खाने में चाहे कितने भी टेस्टी हो, लेकिन इनमे शुगर की मात्रा बहुत ज्यादा होती हैं। इसके अतरिक्त इन्हें खाने से शरीर में यूरिक एसिड भी बढ़ जाता हैं। इसलिए हाई यूरिक एसिड लेवल कम करना चाहते हैं तो केक और पेस्ट्री जैसे बेकरी प्रोडक्ट का बहिस्कार करे।

मोटापा कम करे

मोटे लोगो में प्युरीन वाले खाद्य पदार्थ यूरिक एसिड लेवल को और भी ज्यादा बढ़ा देते हैं। लेकिन तेज़ी से वज़न कम करने के लिए जब आप ज्यादा डाइटिंग या उपवास करते हैं तो भी आपके शरीर में यूरिक एसिड लेवल बढ़ने लगता हैं। इसलिए आपको ऐसे तरीको से अपना वज़न कम करने की जरूरत हैं जिनसे आपको भूखे भी न रहना पड़े और वज़न भी कम हो जाये। वज़न को कण्ट्रोल में रख कर आप हाई यूरिक एसिड होने की समस्या से बच सकते हैं।

यह भी पढ़े :- मोटापा दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

फाइबर से भरपूर आहार ले

अगर आपके शरीर में लगातार यूरिक एसिड का स्तर बढ़ता चला जा रहा हैं तो अपने भोजन में फाइबर से भरपूर चीजों को शामिल करे। इसके लिए आप दलिया, ब्रोकली, चुकंदर, गाजर, मूली, खीरा आदि का सेवन करे, इससे बॉडी में यूरिक एसिड कण्ट्रोल में हो जाता हैं।

पीएच का बैलेंस बनाये

बॉडी में एसिड के हाई लेवल को एसिडोसिस के रूप में जाना जाता हैं। यह शरीर के यूरिक लेवल के साथ सम्बंधित होता हैं। अगर आपके शरीर का पीएच लेवल 7 के नीचे चला जायेगा तो यह भी यूरिक एसिड के लिए अच्छा नहीं होगा। आप पीएच लेवल को संतुलित बनाये रखने के लिए सेब का सिरका, चेरी का रस, बेकिंग सोडा, सेब और निम्बू का रस अपनी डाइट में शामिल करे।

चेरी का सेवन करे

चेरी में एंटी-इन्फ्लामेंट्री गुण पाए जाते हैं जो यूरिक एसिड को कण्ट्रोल में रखते हैं। हर दिन 10 से 40 चेरी को खाने से बॉडी से हाई यूरिक एसिड लेवल को कम किया जा सकता हैं। लेकिन चेरी को एक साथ इतनी मात्रा में न खाए, बल्कि पुरे दिन थोड़ी थोड़ी देर बाद थोड़ा थोड़ा करके खाए तो ही आपको फायदा होगा।

सेब का सिरका

सेब के सिरके के सेवन से ब्लड का पीएच वैल्यू बढ़ जाती हैं और हाई यूरिक एसिड लेवल कम हो जाता हैं। लेकिन एप्पल साइडर विनेगर कच्चा, बिना पानी मिला और बिना पाश्चरीकृत ही होना चाहिए। आप बाज़ार से आसानी से Apple Cider Vinegar को खरीद सकते हैं।

शरीर की सूजन कम करे

बॉडी के हाई यूरिक एसिड को कम करने के लिए सबसे पहले अपने भोजन में परिवर्तन करने की आवश्यकता हैं। आपको स्ट्रॉबेरी, चेरी और ब्लूबेरी को जरूर खाना चाहिए। क्योंकि यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर ने अपनी रिसर्च में यह पाया हैं की इन चीजों को खाने से शरीर की सूजन कम करने में मदद मिलती हैं। अनानास में पाए जाने वाला ब्रोमाइन एंजाइम एंटी-इन्फ्लामेट्री तत्व माना जाता हैं जो सूजन को कम करता हैं, जिससे यूरिक एसिड को कम करने में सहायता मिलती हैं।

यह भी पढ़े :- शरीर की सूजन दूर करने वाले बेस्ट फूड और घरेलु नुस्खे। 

ओमेगा-3 फैटी एसिड वाले खाद्य पदार्थ

ट्यूना, सामन जैसी मछलियों में ओमेगा-3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं। इसके अलावा कम फैट वाले डेयरी प्रोडक्ट्स और चावल, पास्ता, अनाज, अंगूर आदि भी यूरिक एसिड को कम करने के लिए जाने जाते हैं।

संतुलित भोजन करे

आपको ऐसा आहार खाना चाहिए जिसमे , कार्बोहइड्रेट, प्रोटीन, फैट, विटमिन और मिनरल्स सभी सिमित और संतुलित मात्रा में पाए जाते हो। खास करके भारतीय शाकाहारी भोजन संतुलित माना जाता हैं और ऐसे भोजन में ज्यादा बदलाव करने की भी जरूरत नहीं होती हैं।

फ्रक्टोज़ वाले पेय पदार्थो का सेवन न करे

हाई यूरिक एसिड को नेचुरल तरीके से कम करने के लिए आप फ्रक्टोज से भरपूर ड्रिंक्स का सेवन नहीं करना चाहिए। साल 2010 में एक रिसर्च से पता चला की जो लोग ज्यादा मात्रा में फ्रक्टोज़ वाले ड्रिंक्स पीते थे उनमे गठिया होने की संभावना बहुत ज्यादा रहती हैं। इसलिए आपको पैक्ड फ्रूट जूस, कोलड्रिंक, सोडा आदि को ज्यादा नहीं पीना चाहिए।

हाई यूरिक एसिड से बचाव के अन्य तरीके

दर्द वाली जगह पर बर्फ को कपड़े में लपेट कर सिंकाई करने से भी दर्द से राहत मिलती हैं। इस समस्या से जूझ रहे मरीजों को नियमित रूप से दवाओं का सेवन करना चाहिए। हर 6 महीने के अन्दर यूरिक एसिड लेवल की जांच करवाते रहना चाहिए।

नोट :- वैसे तो आप हाई यूरिक एसिड लेवल को नेचुरल उपाय को अजमाकर ठीक कर सकते हैं। यह कुदरती उपाय और टिप्स आपके लिए सुरक्षित हैं। लेकिन सबसे पहले आपको यूरिक एसिड की जांच करवानी चाहिए और डॉक्टर से समर्पक करना चाहिए। क्योंकि अगर किडनी की खराबी की वजह से यूरिक एसिड बढ़ रहा हैं तो वह दवाईओं के माध्यम से ही ठीक होगा। इसलिए हाई यूरिक एसिड होने पर डॉक्टर की सलाह जरूर ले।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

One thought on “हाई यूरिक एसिड लेवल को कम करने की टिप्स और उपाय।

  1. sunny bhardwaj

    Sir isme btaya gya hai ki bharatiya shakahari bhojan hi uric acid ko kum karne ka aasaan upay hai but is bhojan k according kya kya aata hai mujhe zaroor btaye pls sir

Comments are closed.