चने की दाल खाने के फायदे जानिए।

चना दाल खाने के फायदे. चने की दाल को क्यों खाना चाहिए? इससे क्या लाभ है?

चना दाल बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक दाल हैं। इसे ज्यादातर लौकी के साथ मिला कर बनाया जाता हैं। चने की दाल को खाने से शरीर को कई सारे फायदे भी होते हैं। चना दाल खाने के फायदे जानने के लिए यह लेख पूरा पढ़े। Health Benefits of Chana Dal in Hindi.

चना दाल सेहत के लिए क्यों हैं लाभकारी?

चने की दाल की प्रति 100 ग्राम मात्रा में लगभग 33000 कैलोरी, 20 ग्राम प्रोटीन, 10 से 11 ग्राम फाइबर और 5 ग्राम वसा होती है। यह प्रोटीन और फाइबर का अच्छा स्रोत हैं। प्रोटीन के अलावा चना दाल में कैल्शियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन्स भी मौजूद होते हैं, जो शरीर को तंदरुस्त बनाते हैं।

चने की दाल खाने के फायदे :-

■ कोलेस्ट्रॉल कम होता है

चने के दाल फाइबर का बढ़िया स्रोत हैं। इससे न सिर्फ पाचन तंत्र को फायदा मिलता हैं, बल्कि इससे बॉडी का कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम होता हैं।

■ पेट के लिए लाभकारी

चने की दाल का सेवन करने से हाजमा दुरुस्त रहता हैं। इससे पेट से जुड़ी समस्याओं से मुक्ति पाने में मदद मिलती हैं।

■ फाइबर का भंडार

एक एक ऐसी दाल हैं, जिसमे फाइबर सबसे ज्यादा पाया जाता हैं। फाइबर की ज्यादा मात्रा होने के कारण यह वजन को कम करने में भी मददगार हैं। फाइबर की वजह से पेट लम्बे समय तक भरा-भरा सा रहता है, जिससे आपको जल्दी भूख नहीं लगती हैं। परिणामस्वरूप आप ज्यादा खाना खाने से बच जाते हैं। चना दाल को नियमित रूप से डाइट में शामिल करने से कब्ज़ की समस्या भी दूर होती हैं।

■ शरीर को एनर्जी मिलती हैं

चना दाल प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, जिंक, फोलेट आदि से समृद्ध दाल है। इसे खाने से शरीर को जरूरी पोषक तत्वों की प्राप्ति होती हैं। साथ ही शरीर में एनर्जी आती हैं।

■ डायबिटीज में फायदेमंद

चने की दाल को खाने से डायबिटीज की बीमारी में फायदा होता हैं। इसमें ग्लाईसेमिक इंडेक्स होता है जो ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल करता हैं। साथ ही बॉडी में ग्लूकोज़ के लेवल की ज्यादा मात्रा को कम करता हैं। इसलिए डायबिटीज के रोगियों को चने की दाल जरूर खानी चाहिए।

■ पीलिया ठीक करे

पीलिया की बीमारी से निजात पाने के लिए चने की दाल काफी ज्यादा लाभकारी हैं। पीलिया रोग होने पर 100 ग्राम चने की दाल को 2 गिलास पानी में कुछ घंटों तक भिगो कर रखे। फिर दाल से पानी को निकाल ले। अब भीगी हुई चने की दाल में 100 ग्राम गुड़ मिला कर पीलिया के मरीज़ को 4 से 5 दिन खिलाये। इससे पीलिया की बीमारी में काफी ज्यादा आराम मिलता हैं।

■ खून की कमी दूर करे

चने की दाल को खाने से शरीर में खून की कमी दूर होती हैं। यह आयरन और फॉस्फोरस का अच्छा स्रोत हैं जो नए ब्लड सेल्स के निर्माण में मददगार होते हैं। साथ ही इससे हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ता हैं। जिससे एनीमिया की बीमारी होने का ख़तरा कम हो जाता हैं। इसमें एमिनो एसिड पाए जाते हैं जो बॉडी सेल्स को मजबूत बनाते हैं।

Related Post That you may also like to read :-

1.  अरहर की दाल के घरेलु नुस्खे, उपाय और इसे खाने के फायदे।

2.  उड़द की दाल के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।

3.  मूंग की दाल खाने के फायदे, जरूर पढ़े।

4.  दाल-चावल खाने के फायदे।

5.  दाल में इन 6 चीजों का तड़का जरूर लगाये।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...