कत्थे के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे।

कत्थे के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे।

कत्थे का नाम ज्यादातर लोग पान में डालने वाली चीज़ के रूप में जानते हैं। लेकिन कत्थे के अपने ही फायदे और गुण हैं। क्योंकि लोगो को कत्थे के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपायों के बारे में पता ही नहीं हैं, जिससे वह कत्थे के फायदे से अनजान हैं। आइये जानते हैं हैं कत्थे के घरेलु नुस्खे और फायदे, Benefits & Home remedies of Catechu In Hindi.

कत्थे को खैर की लकड़ी से निकाला जाता हैं। इसका स्वाद थोड़ा सा कड़वा, तीखा और कषैला होता हैं, लेकिन इसकी तासीर ठंडी हैं। कत्था मोटापा, खांसी, कुष्ठरोग, मूंह की बीमारियाँ, चोट, घाव, पित्त आदि को दूर करने के लिए लाभकारी हैं।

कत्थे के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे :-

1. बवासीर में फायदेमंद

सफ़ेद कत्था, बड़ी सुपारी और नीलाथोथा बराबर मात्रा में मिला ले। सबसे पहले सुपारी और नीलाथोथा आग पर भून ले और फिर इसमें कत्था मिल ले और इन्हें पीस कर चूर्ण बना ले। इस चूर्ण को मक्खन में मिला कर पेस्ट बनाये और इस पेस्ट को सुबह-शाम टॉयलेट जाने के बाद 8 से 10 दिन तक मस्सों पर लगाये। इससे बवासीर के मस्से सूख जाते हैं और बवासीर से आराम मिलता हैं।

जरूर पढ़े :बवासीर से राहत दिलाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

2. गले की खराश दूर करे

300 मिलीग्राम कत्थे का चूर्ण मूंह में रखकर चूसे, इससे गला बैठना, आवाज़ रूकना, गले की खराश और मूंह के छालों का उपचार करने में मदद मिलती हैं। इस उपाय को आप दिन में 5 से 6 बार अजमाए।

3. कुष्ठरोग के इलाज के लिए

कत्थे के काढ़े को पानी में मिला कर रोजाना नहाने से कुष्ट रोग को ठीक करने में आसानी होती हैं।

4. खट्टी डकार दूर करे

300 से 700 मिलीग्राम कत्थे को सुबह-शाम खाने से खट्टी डकार आने की समस्या से छुटकारा मिलता हैं।

5. दस्त रोके

कत्थे को पका कर उपयोग करने से दस्त को रोकने में मदद मिलती हैं। इससे डाइजेशन भी सुधरता हैं। इसकी 300 से 700 मिलीग्राम तक की मात्रा ही उपयोग करे।

6. खांसी दूर करे

दिन में तीन बार कत्था, हल्दी और मिश्री की 1-1 ग्राम की मात्रा को मिला कर चूसने से खांसी को दूर करने में मदद मिलती हैं।

7. घाव

अगर घाव में पस पड़ रहे हैं तो कत्थे को ज़ख्म पर बुरकने से पस निकलना बंद हो जाता हैं और घाव जल्दी सूखने लगता हैं।

8. दांतों की बीमारी दूर करे

कत्थे को मंजन में मिला कर दांतों और मसूड़ो पर रोजाना मिला कर मलने से दांतों की बिमारियों से छुटकारा मिलता हैं।

9. दांतों के कीड़े मारे

कत्थे को सरसों के तेल में घोल कर रोजाना 2 से 3 बार मसूड़ो पर मलने से मसूड़ो से खून आना, मूंह की बदबू आने जैसी समस्याओं से मुक्ति तो मिलती ही हैं, साथ ही इससे दांतों के कीड़े भी मर जाते हैं।

सावधानी :- लेकिन ज्यादा मात्रा में कत्थे का सेवन करने से शरीर को नुकसान होने लगता हैं। अगर आप जरूरत से ज्यादा कत्थे का उपयोग करते हैं तो इससे नपुंसकता या पथरी की बीमारी हो सकती हैं। इसलिए दिन में सिर्फ 1 से 3 ग्राम की मात्रा जितना ही कत्थे का उपयोग करना चाहिए।







अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *